होम Aakhiri kitaab jo apki zindagi badal de (Hindi Edition) nodrm

Aakhiri kitaab jo apki zindagi badal de (Hindi Edition) nodrm

0 / 0
यह पुस्तक आपको कितनी अच्छी लगी?
फ़ाइल की गुणवत्ता क्या है?
पुस्तक की गुणवत्ता का मूल्यांकन करने के लिए यह पुस्तक डाउनलोड करें
डाउनलोड की गई फ़ाइलों की गुणवत्ता क्या है?
भाषा:
english
फ़ाइल:
EPUB, 272 KB
डाउनलोड करें (epub, 272 KB)

आप के लिए दिलचस्प हो सकता है Powered by Rec2Me

 
1 comment
 
Nikhil
Your web site is wrost web site ever you have to leave. This joB

09 July 2021 (08:35) 

To post a review, please sign in or sign up
आप पुस्तक समीक्षा लिख सकते हैं और अपना अनुभव साझा कर सकते हैं. पढ़ूी हुई पुस्तकों के बारे में आपकी राय जानने में अन्य पाठकों को दिलचस्पी होगी. भले ही आपको किताब पसंद हो या न हो, अगर आप इसके बारे में ईमानदारी से और विस्तार से बताएँगे, तो लोग अपने लिए नई रुचिकर पुस्तकें खोज पाएँगे.
1

Effective awk Programming: Universal Text Processing and Pattern Matching

Año:
2015
Idioma:
english
Archivo:
PDF, 4,47 MB
5.0 / 0
2

The last book for your best life nodrm

Idioma:
english
Archivo:
EPUB, 800 KB
5.0 / 5.0
आखिरी खिताब

जो आपकी ज़ िंदगी बदल दे





पुष्कर राज ठाकुर

लाइफ़ कोच





इनविन्सेबल पवललशसस





भारत में िर्स 2019 को सबसे पहली बार प्रकावशत

© 2019 सिासविकार सुरवित

ISBN: 978-93-88333-56-6

इस प्रकाशन का कोई भी भाग पुनसप्रावि प्रणाली के अंतगसत न तो पुन: उत्पन्न

ककया जा सकता है, न ही संग्रवहत ककया जा सकता है या यह ककसी भी रूप में

या ककसी भी माध्यम जैसे इलेक्ट्रॉवनक, मैकेवनकल,फोटोकॉपी, ररकॉर्डिंग या

प्रकाशक की अनुमवत के वबना ककसी भी माध्यम में प्रेवर्त नहीं ककया जा

सकता है।

इस पुस्तक के पाठक इस पुस्तक में दी गई जानकारी के संबंि में उसके

इस्तेमाल की वजम्मेदारी मानते हैं। इस प्रकाशन के लेखक एिं पवललशर पाठकों

की ओर से ककसी भी प्रकार की कोई वजम्मेदारी या उत्तरदावयत्ि नहीं मानते

हैं। हालांकक जानकारी को सत्यावपत करने के वलए कोवशशें की गई हैं, सही

सूचनाएं दी गई हैं, पर न तो प्रकाशक न ही लेखक ककसी प्रकार की कोई

गलती, त्रुरटपूणसता या चूक के वलए कोई िारंटी लेते हैं।



इनविन्सेबल पवललशसस

201A, SAS Tower, Sector 38, Gurgaon-122003





"तुम्हारे सपने इतने बडे होने चाहहए,

कि आसमान छोटा पड जाए,

जो पंछी पपंजरे में रहते हैं,

उन्हें बाज़ नह ं िहते!"



- पुष्कर राज ठाकुर





आपने आज ति जजतनी भी किताबें पढ़ हैं

ये किताब उन सभी में सबसे ज्यादा ताितवर है।

इस किताब िा हर पन्ना आपिी जजंदगी में बदलाव लाएगा और

आप पहले जैसे बबल्िुल भी नह ं रहेंगे!





एक्नॉलेजमेंट

हााँ मैं अपनी जजंदगी में सफल ह ाँ, हााँ मैं एि शानदार जज़न्दगी जी रहा ह ाँ

और ठीि वैसी ह जी रहा ह ाँ जैसी मैंने सोची थी। और अगर आज आप इस

किताब िो पढ़ रहे हैं तो आप भी अपनी जजंदगी में सफलता िा स्वाद चखेंगें

और ठीि वैसी ह जज़न्दगी जी पाएंगे जैसी आपने सोची है। अगर आज मैं

सफल ह ाँ तो, इसिे पीछे है मेर इंजस्परेशन और मेर मोहटवेशन। आपिो अगर

आपिी जज़न्दगी में िुछ भी हाससल िरना है तो आपिे पास उसिा िारण

होना चाहहए। किसी भी चीज़ िो हाससल िरने िे सलए आपिे पास एि मजब त

िारण या य ं िहें कि, "क्यों" होना चाहहए। अगर उस चीज़ हाससल िरने िा

“क्यों” यानन िी “िारण” आपिो पता है तो वो चीज़ हाससल िरना बहुत ह

आसान हो जाता है। तो जो भी चीज़ आप जजंदगी में हाससल िरना चाहते हैं

उसिे सलए आपिो वो "क्यों" हाससल िरना होगा और यह "क्यों" आपिा

म; ोहटवेशन है। और उस चीज़ िो हाससल िरने िे सलए बबना रुिे आगे बढ़ना

आपिी इंजस्परेशन है। आप सभी ने सुना ह होगा कि हर सफल आदमी िे

पीछे एि महहला िा हाथ होता है। तो मैं आपिो बता दाँ कि मेर िहानी में

एि नह ं बजल्ि दो महहलाओं िा हाथ है - एि मेर मोहटवेशन है और द सर

इंजस्परेशन।

आज ति मैंने जो िुछ भी हाससल किया है वो मैंने अपने जज़न्दगी िे

प्यारिे सलए किया है। उन्होंने ह मुझे जजंदगी जीना ससखाया है। वो ह हैं जो

मुझे हमेशा मेरे गोल्स िी तरफ़ बढ़ाती रहती हैं और मुझे नामुनकिन िाम भी

मुमकिन िरने िे सलए प्रेररत िरती हैं। उन्होंने हमेशा ह मेरे अंदर पवश्वास

हदखायाजैसे उनिो हमेशा से ह पता था कि मैं एि हदन िुछ बडा िरिे

हदखाऊंगा। मैं जो भी ह ाँ उन्ह ं िी वजह से ह ाँ और मेर सफलता िा सारा श्रेय

उन्ह ं िो जाता है। मेर सफलता में उनिा बहुत ह बडा योगदान है और वो

ह मेरा "क्यों" हैं।

जहााँ मेर वाइफ़ मेरा मोहटवेशन हैं वह ं मेर मााँ, मेरा इंजस्परेशन हैं। मेर

मााँ से ज्यादा डेडडिेटेड और ससंससयर इंसान आज ति मैंने नह ं देखा। उन्होंने

हमार जजंदगी िो बेहतर बनाने िे सलए बहुत मेहनत िी है। वह मेरे उठने से



पहले उठ जाती हैं, मेरे सोने िे बाद सोती हैं और मैं ननस्संदेह िह सिता ह ाँ

कि वह मुझसे िह ं ज्यादा िाम िरती हैं और इसमें िोई दो राय नह ं कि वह

हमेशा मेरे सलए सबसे बडी प्रेरणा रह हैं।

तो मैंने आज ति अपनी जजंदगी में जो भी किया है या िमाया वो इन्ह ं

दो महहलाओं िी वजह से है और इन दोनों िो ह मेरे ऊपर गवव है और अब

आपिो पता चल ह गया है िी ये दो महहलायें िौन हैं। तो अगल बार आप

जब भी मुझसे समलेंगे तो आपिो मुझसे मेर जजंदगी िी सफलता िे राज़ िे

बारे में प छने िी ज़रूरत नह ं पडेगी।

हटप: अगर आपने अपने मोहटवेशन और इंजस्परेशन िा पता लगा सलया तो

बािी चीजें अपने आप हो जायेंगी।





खिषय सूची



इंट्रोडक्शन ....................................................................................... 1

8 X –फैक्टसस .................................................................................... 4

िॉखटटखनयस अपखलख्टंग थॉट्स ............................................................... 8

अध्याय – 1 ............................................................................... 9

सफल मानससकता को अपनाना ............................................................... 9

ििसशीट ................................................................................... 15

अध्याय 2 .................................................................................. 16

लेसन्स फॉर योर ब्रेन ........................................................................ 16

ििसशीट ................................................................................... 24

फ़ोकस्ड डे ड्रीसमिंग .......................................................................... 25

ििसशीट ................................................................................... 31

अध्याय 4 .................................................................................. 32

सुबह के समय ररफ़्रेश्ड कैसे उठें .............................................................. 32

ििसशीट ................................................................................... 38

अध्याय 5 .................................................................................. 40

मेसडटेशन कैसे करें .......................................................................... 40

ििसशीट ................................................................................... 42

हर सिन का गोल सेट करने का रूटीन बनाएिं.................................................. 43

ििसशीट ................................................................................... 49

अध्याय 7 .................................................................................. 50

ये आित आपकी सिन्िगी बिल िेगी ........................................................ 50



ििसशीट ................................................................................... 55

अध्याय 8 .................................................................................. 56

सफट और ऐसटटव कैसे रहें? ................................................................. 56

ििसशीट ................................................................................... 60

डेली रूटीन .................................................................................... 61

अध्याय 9 .................................................................................. 62

सफल लोगों की सिनचयाा ................................................................... 62

ििसशीट ................................................................................... 66

अध्याय 10 ................................................................................. 67

प्लान योर प्लान ............................................................................ 67

ििसशीट ................................................................................... 71

अध्याय 11 ................................................................................. 72

हैसबट्स ..................................................................................... 72

ििसशीट ................................................................................... 76

इनसेन प्रोडखक्टखिटी .......................................................................... 77

अध्याय 12 ................................................................................. 78

सडस्रैटशिंस को कैसे कम करें? ............................................................... 78

ििसशीट ................................................................................... 83

अध्याय 13 ................................................................................. 84

अपने टाइम की वैल्यू बढ़ाएिं ................................................................. 84

ििसशीट ................................................................................... 90

अध्याय 14 ................................................................................. 91

जैम सेशन .................................................................................. 91





ििसशीट ................................................................................... 94

अध्याय 15 ................................................................................. 95

टाइम मैनेजमेंट .............................................................................. 95

ििसशीट ................................................................................... 98

अध्याय 16 ................................................................................. 99

सिऑररटाइसििंग एिंड सबसल्डिंग मोमेंटम ........................................................ 99

ििसशीट ................................................................................. 102

अध्याय 17 ............................................................................... 103

अपनी कुल्हाड़ी पर धार लगाएिं ............................................................ 103

ििसशीट ................................................................................. 107

अध्याय 18 ............................................................................... 108

कम्पाउिंसडिंग इफेटट ........................................................................ 108

ििसशीट ................................................................................. 112

अध्याय 19 ............................................................................... 113

पॉवर ऑफ़ फ़ोकस ....................................................................... 113

ििसशीट ................................................................................. 116

अध्याय 20 ............................................................................... 117

अपने हीरो आप खुि हैं.................................................................... 117

ििसशीट ................................................................................. 122

लीडरखशप ................................................................................... 123

अध्याय 21 ............................................................................... 124

अपने अिंिर के लीडर को पहचानें .......................................................... 124

ििसशीट ................................................................................. 128



पससनाखलटी अपग्रेडेशन ..................................................................... 129

अध्याय 22 ............................................................................... 130

अपना ऑरा (AURA) बढ़ाएिं ............................................................ 130

ििसशीट ................................................................................. 135

अध्याय 23 ............................................................................... 136

एडवािंस कम्युसनकेशन के 7 मैसिकल सीक्रेट्स ............................................. 136

ििसशीट ................................................................................. 141

अध्याय 24 ............................................................................... 142

आटा ऑफ़ सेसलिंग ........................................................................ 142

ििसशीट ................................................................................. 146

अध्याय 25 ............................................................................... 147

लोगों को कसन्विंस कैसे करें ................................................................ 147

ििसशीट ................................................................................. 151

अध्याय 26 ............................................................................... 152

गुस्से पर काबू ............................................................................. 152

ििसशीट ................................................................................. 154

अध्याय 27 ............................................................................... 155

अपने आपको टलासी कैसे बनाएिं? ........................................................ 155

ििसशीट ................................................................................. 159

अध्याय 28 ............................................................................... 160

अल्फा होने के 6 सटप्स .................................................................... 160

ििसशीट ................................................................................. 163

अध्याय 29 ............................................................................... 164





एक ग्रेट स्टोरी टेलर कैसे बनें? ............................................................. 164

ििसशीट ................................................................................. 168

अध्याय 30 ............................................................................... 169

सेन्स ऑफ़ ह्यूमर .......................................................................... 169

ििसशीट ................................................................................. 173

िेल्थ खिएशन ............................................................................... 174

अध्याय31................................................................................ 175

वेल्थ सक्रएशन ............................................................................ 175

ििसशीट ................................................................................. 178

अध्याय 32 ............................................................................... 179

पैसे कैसे बनायें ............................................................................ 179

ििसशीट ................................................................................. 182

अध्याय 33 ............................................................................... 183

ज्यािा पैसे कैसे बचाएँ .................................................................... 183

ििसशीट ................................................................................. 186

अध्याय 34 ............................................................................... 187

बेहतर नेटवसकिंग के साथ आगे बढ़ें ........................................................ 187

ििसशीट ................................................................................. 190

अध्याय 35 ............................................................................... 191

िुसनया का आठवािं अिूबा ................................................................ 191

ििसशीट ................................................................................. 193

अध्याय 36 ............................................................................... 194

समलेसनयर माइिंडसेट ....................................................................... 194



ििसशीट ................................................................................. 197

ररलेशनखशप मास्टरी ........................................................................ 198

अध्याय 37 ............................................................................... 199

लोगों को अपना बनाने के 6 तरीके ........................................................ 199

ििसशीट ................................................................................. 203

अध्याय 38 ............................................................................... 204

कभी न झगड़ने के सलए 6 सटप्स ........................................................... 204

ििसशीट ................................................................................. 208

अध्याय 39 ............................................................................... 209

नए िोस्त कैसे बनाएिं ...................................................................... 209

ििसशीट ................................................................................. 212

अध्याय 40 ............................................................................... 213

लोगों को अपने सहसाब से बिलने के 7 तरीके ............................................. 213

ििसशीट ................................................................................. 216

लेिि िे बारे में ............................................................................ 218

खिताब िे बारे में ........................................................................... 221





आसखरी सकताब

इंट्रोडक्शन

लोगों िो समझना इंटेसलजेंस है और खुद िो समझना पवज़डम है। लोगों

िो मास्टर िरना आपिी स्ट्रेंथ है और खुद िो मास्टर िर लेना आपिी असल

ताित है। मैं यहााँ आपिे सामने इसीसलए ह ाँ क्योंकि मैं आपिो आपिे पॉवर

और पोटेंसशयल िे बारे में आपिो बता पाऊाँ। आपिो उनिा एहसास हदला

पाऊाँ। क्या अपने िभी सोचा है कि आप क्या हैं और क्या बन सिते हैं? हो

सिता है सोचा हो और हो सिता है न भी सोचा हो, लेकिन मैं आपिो बता

दाँ कि ये बात बबलिुल सह है। आपिे खुद िे दो संस्िरण यानन कि वज़वन है

- एि वो जो आप अभी हैं और द सरा वो जो आप बनना चाहते हैं या बन

सिते हैं और इन दोनों िे बीच एि गैप है।

तो जब हम अपने पोटेंसशयल्स िो समझने िी बात िरते हैं तो हमारा

फ़ोिस इसी चीज़ पर होता है कि िैसे इस गैप िो भरें। मेर जजंदगी में मुझे

इस गैप िे बारे में बहुत जल्द पता चल गया था और मैंने ठान सलया था कि

िैसे भी िरिे मुझे इसे ख़त्म िरना है। जब मैंने ये ररयलाइज़ किया तो मैंने

एि नयी फील्ड िो डडस्िवर किया जजसिा नाम है पसवनल मास्टर । इसिो

समझने िी सलए मैंने पपछले 5 सालों में 14000 घंटे लगाए है और आज मैं

आपिो बता सिता ह ाँ कि ये फील्ड 8 फंडामेंटल पप्रंससपल्स यानन िी म ल

ससद्धान्तों िे ऊपर ननभवर िरती है। 8 ऐसे पप्रंससपल्स जजन्हें मैं 8x फैक्टसव

बोलता ह ाँ।

असल में आपिो लाइफ़ में जहााँ जाना है या जहााँ आप पहुाँच सिते हैं ये

ससफव 8 चीजों पर ननभवर िरता है। मैं नह ं चाहता कि, आप भी अपने अगले

5 साल इन्ह ं चीजों िो समझने में लगा दो, इसीसलए मैं आपिो इनिे बारे में

सीधे तौर पे बता देता ह ाँ ताकि आप आज से ह उन पे िाम िरना शुरू िर

दो और आप जहााँ भी पहुंचना चाहते हो अगले 5 सालों में वहां पहुाँच जाओ

और मेरा मोहटव भी यह है। अगर आपने इन 8 फैक्टसव िे ऊपर िाम िर

सलया तो यिीन माननये आपिी जजंदगी प र तरह से बदल जाएगी। आपिो

1

पुष्कर राज ठाकुर

अपनी लाइफ़ में जो िुछ भी चाहहए कफर चाहें वो प्यार हो या पैसा या रेस्पेक्ट

या िुछ भी, आपिो जो चाहहए वो समलेगा और उन सभी चीजों िा हाससल

िरने िे सलए आपिो इन फैक्टसव िे ऊपर िाम िरना है।

तो इसिे सलए आपिो क्या िरना होगा? मैं इसिे बारे में आपिो आगे

आने वाले 40 चैप्टसव में डडटेल में बताने वाला ह ाँ। लेकिन ध्यान रहे कि ये

किताब सबिे सलए नह ं है। ये किताब ससफव उन लोगों िे सलए है जो अपनी

जजंदगी में िुछ बडा और बेहतर िरना चाहते हैं।

तो इसिी शुरुआत िैसे िरेंगें? इसिे सलए आप आगे आने वाले चैप्टसव िो

ध्यान से पढेंगें और ज़रूर पॉइंट्स िो नोट भी िरें जो आपिे सब िॉजन्शयस

माइंड में रहे। सब िॉजन्शयस माइंड से यहााँ मतलब अवचेतन हदमाग से है।

क्या आपिो पता है कि नॉलेज िे 3 लेवल्स होते हैं - पहला सलसेननंग यानन

कि सुनना, द सरा थथंकिंग यानन कि जो आपने सुना उस बारे में सोचना, तीसरा

वो कि जो भी जो आपने सुना और सोचा उस बात िो अपना लेना। तो इसिे

पहले आप शुरुआत िरें मैं आपिो बता दाँ िी जो भी मैं आपिो ससखाने वाला

ह ाँ वो 99% लोगों िी सोच से अलग होगा क्योंकि मैंने ये उन 1 % लोगों से

सीखा है जो आज सफलता िी उचाईयो पर है। तो मैं इस बुि िे जररये आपिो

हर वो चीज़ बताऊंगा जो आपिो सफलता ति पहुंचाएगी।

तो आगे बढ़ने से पहले मैं आपिो ये बता दाँ कि एि समय में या एि बार

में आपिो एि ह चैप्टर पर फ़ोिस िरना है। आप ऐसा न िरें कि ससफव पढ़े

और द सरे चैप्टर िी तरफ़ बढ़ जाएाँ या कफर एि चैप्टर िो बीच में छोडिर

ह द सरा पढ़ना शुरू िर दें। आपिो एि एि िरिे चैप्टसव पढ़ने हैं और जो

भी आप पढ़ रहे हैं या सीख रहे हैं आपिो उस पर अमल भी िरना है, ना कि

चैप्टसव िो पढ़िर छोड देना है। मेर आपिो ये सलाह है कि आप इस किताब

िो 40 हदन में समाप्त िरें और उसिे दो िारण हैं। पहला ये कि आपिो इस

किताब िे हर चैप्टर से िुछ नया सीखने िो समलेगा और जो भी आप सीखेंगे

अगर उसे अपनी जजंदगी िा हहस्सा बनाते गए तो वो आपिे सलए बहुत ह

अच्छा होगा। द सरा ये कि किसी भी आदत िो अपनाने िे सलए आपिो 40

हदन लगते ह हैं, मतलब कि अगर आप िोई िाम बबना रुिावट 40 हदन

2

आसखरी सकताब

िरेंगे तो वहआपिी आदत बन जाएगी और अगर लगातार आप इस किताब

िो 40 हदनों ति पढ़ते रहे और इसमें से सीखा हुआ अपने अंदर उतारते गए

मुझे पता है कि अगले 40 हदनों में आप एि बेहतर इंसान बनिर उभरेंगे।

लेकिन इसिे पहले मैं इस किताब िी शुरुआत िरूाँ उससे पहले मेरा आपसे

एि सवाल है और वो ये है कि, इस किताब से आपिी क्या उम्मीदें है? जो

िुछ भी आपिो आपिे लाइफ़ में अचीव िरना है, कफ़र वो चाहें फाइनेंसशयल

हो, प्रोफेशनल हो, पसवनल हो या कफ़र िुछ और। तो आप किताब िी शुरुआत

िरने से पहले वो चीजें िह ं सलख लें। मेरा यिीन माननये कि ये किताब आपिो

वो सब हाससल में मदद िरेगी जो िुछ भी आप चाहते है।

3





पुष्कर राज ठाकुर

8 X –फैक्टसव

आने वाले 40 हदनों में इस किताब िे अंदर आप 8 फैक्टसव िे ऊपर मास्टर

िरने वाले हैं। तो आईये पहले जानते हैं उन फैक्टसव िे बारे में:

1. कॉज़टिनियस अपललज़्ििंग थॉट्स: जब मैंने पहल बार लॉ ऑफ़ अट्रैक्शन

म वी देखी थी तब मुझे समझ आ गया था कि हमार जजंदगी हमारे पवचारों िा

पररणाम है। जैसा भी हम सोचते हैं हमार लाइफ़ वैसे ह होती चल जाते है।

तो अब मेरा सवाल ये है कि िैसे हम हमारे पवचारों िो िंट्रोल िरें? िैसे हमारे

हदमाग में ऐसे पवचार आएं कि हम लगातार सक्सेस िी तरफ बढ़ते जाएाँ?

इसिे सलए मैंने बहुत ररसचव िी और कफर मुझे इस पप्रंससपल िे बारे में माल म

चला जजसे मैं िॉजन्टननयस अपसलज्टंग थॉट्स(CUT) बोलता ह ाँ। मैं आपिो

ऐसा माइंडसेट देना चाहता ह ाँ कि आपिे हदमाग में ऐसे पवचार आएं जो लगातार

आपिो िामयाबी िी तरफ ले जाएाँ। िामयाब होने िे सलये आपिे हदमाग में

लगातार पॉजजहटव थॉट्स आने चाहहए। आपिे हदमाग में ऐसे थॉट्स आने

चाहहए जो आपिो ऊपर लेिर जाएाँ और आगे बढ़ने िे सलए मोहटवेट िरें।

2. 5 मॉनििंग ररचुअल्स: सुबह िा समय प रे हदन िा सबसे अच्छा समय

होता है। हम सभी ने ये ऑब्ज़वव किया होगा कि अगर हमार सुबह िी शुरुआत

अच्छी होती है तो प रा हदन अच्छा जाता है। अगर आप अपनी सुबह िा

सदुपयोग िरें और ऐसे िाम िरने लग जाएाँ जो लगभग सभी सफल व्यजक्त

िरते हैं तो कफर क्या बात हो। आप भी उन लोगों िी िैटेगर में आ जायेंगें

और जब आप उनिी िैटेगर में आयेंगें तो आप उनिी तरह बन जायेंगें। तो

जजन ररचुयल्स िे बारे में मैं आपिो बताने वाला ह ाँ, अगर आपने वो िरना

शुरू िर हदया तो इन्ह ं 5 चीजों से आप अपनी जजंदगी बदल सिते हैं। इस

फैक्टर में मैं आपिो बताऊंगा कि सुबह िा जो 5 से 7 बजे िे बीच िा समय

होता है उसिो िैसे इस्तेमाल िरना है।

3. डेली रूिीि: जॉन सी मैक्सवेल (John C Maxwel ) िहते हैं कि किसी

भी सफल व्यजक्त िी सफलता िा राज अगर आपिो जानना है तो आप उसिे

4

आसखरी सकताब

डेल रूट न फॉलो िरें क्योंकि वो जो डेल िर रहा है वह उसिी सफलता िा

राज़ है। तो इस फैक्टर में हम यह सीखेंगें कि अपना डेल रूट न िैसे बनाएं।

डेल रूट न से यहााँ पर ये मतलब नह ं है कि आपिो रोज़ सुबह उठना है कफर

वाि िे सलए जाना है, कफर जॉब पे जाना है और शाम िो सो जाना है। डेल

रूट न से यहााँ मेरा मतलब रूट न ऑफ़ सक्सेस से है। तो यहााँ पर हम अपनी

हैबबट्स िो ठीि िरने िी बात िर रहे हैं, कि िैसे हम अपने अंदर से बुर

आदतों िो ननिाल िर अच्छी आदतें अपनाते हैं।

4. इिसेि प्रोडज़टिवििी: हम प रे मह ने िाम िरते हैं और मह ने िे अंत

में हमिो लगता है कि हमने उतने पैसे नह ं िमाए जजतने बनते थे। एि

स्ट डेंट िे हहसाब से सोचें तो हम प रे साल पढाई िरते हैं और जब हमारे माक्सव

आते हैं तो हम उससे संतुष्ट नह ं होते हैं। एि बबज़नेसमैन िी तरह सोचें तो

जजतनी हम सेल्स चाहते थे मह ने िे अंत ति उतनी नह ं हुई। हम िाम तो

बहुत िरते हैं पर ररज़ल्ट्स बहुत िम आते हैं। तो मैं आपिो ऐसा फाम वला

बताऊंगा जजससे आप िम िाम िरिे ज्यादा ररज़ल्ट्स ला पायेंगें। अगर आपिो

लगता है िी ज्यादा ररज़ल्ट्स लाने िे सलए आपिो ज्यादा िाम िरने िी

जरूरत है तो आप गलत हैं। अगर आपिो नह ं लगता कि िम िाम िरिे

ज्यादा ररज़ल्ट समल सिता है तो आप सक्सेसफुल लोगों िो देखें। आपने शायद

ररचडव ब्रैंसन िे बारे में सुना होगा। ये 400 से भी ज्यादा िंपननयां संभालते हैं

लेकिन िाम आपसे और मेरे से भी िम िरते हैं। वो अपना पसंद दा िाम

हमसे ज्यादा िरते हैं, वो अपनी फैसमल िो भी हमसे ज्यादा समय देते हैं

और इन सबिे बाद भी वो ज्यादा सक्सेसफुल हैं। उनिी सक्सेस िे िुछ

सीक्रेट्स है जो हमें बताते हैं कि िम समय में ज्यादा िैसे अचीव िरें जजसिे

बारे में भी हम जानेगें।

5. लीडरलिप: इस सद िी जो सबसे इम्पोटेन्ट जस्िल है वो है ल डरसशप

जस्िल। आज िे समय में आप किसी भी चीज़ िी बात िर लो कफर चाहें वो

पॉसलहटक्स हो या िॉपोरेट, हर जगह ल डसव चाहहए। जब िोई किसी िो अपनी

िंपनी में ररक्र ट िरते है तो देखते हैं कि क्या ये आगे चलिर लोगों िो ल ड

िर पायेगा? क्या इसिे अंदर वो क्वासलट है जजससे ये लोगों िो ससखा पायेगा?

5

पुष्कर राज ठाकुर

आने वाले समय में ये बॉस बनेगा या ल डर? क्योंकि हमें वो लोग नह ं चाहहए

जो लोगों िो ससफव इंस्ट्रक्शंस दें, बजल्ि ऐसे लोग चाहहए जो द सरों िे सलए

समसाल बनें। जो लोगों िो साथ लेिर चले और उन्हें ऊंचाईयां छ ने में मदद

िरे। और इस फैक्टर में हम इसी बारे में पढेंगें।

6. पससिाललिी अपग्रेडेिि: यहााँ पर हम पसवनासलट अपग्रेडेशन िी बात िर

रहे हैं ना कि डेवलॅपमेंट िी। िई बार हमारे साथ ऐसा होता है कि हम पहल

बार किसी से समलते हैं और समलते ह हम उनिी तरफ अट्रेक्टेड हो जाते हैं।

उनिे अंदर वो िररज़्मा है कि लोग उनिी तरफ खींचे चले जाते हैं और इस

फैक्टर में यह सीखेंगें कि हम वैसे िैसे बनें।

7. िेल्थ क्रिएिि: ये एि ऐसा फैक्टर है जजसिे ऊपर हर िोई िाम िरना

चाहता है। लोगों िी बडी जजज्ञासा होती है कि पैसा िैसे बनाएं सर। अच्छा,

आप मुझे एि बात बताईये कि अगर मैं आपसे प छ ाँ कि मैं इंजीननयर िैसे बन

सिता ह ाँ तो आप िहेंगें िी आपिो इंजीननयररंग िी पढ़ाई िरनी पडेगी। तो

ठीि वैसे ह अगर आपिो अमीर बनाना है तो आपिे ये फैक्टर वेल्थ कक्रएशन

िे ऊपर अच्छे से स्टडी िरना पडेगा। मैं कफनांसशयल एजुिेशन िे ऊपर एि

ररवॉल्य शन लाना चाहता ह ाँ। वेल्थ कक्रएशन िे ऊपर हम जो भी सीखें उसे

अप्लाई भी िरें। मैं नह ं चाहता कि इंडडया में लोग वह माइंडसेट रखें जो उनिे

एजुिेशन ससस्टम ने उन्हें हदया है बजल्ि उसी बाहर भी सोचें। इस दुननया िे

एजुिेशन ससस्टम में ररवॉल्य शन िी ज़रूरत है क्योंकि ये आपिो फाइनेंसशयल

एजुिेशन िे बारे में नह ं ससखाता। न ह हमिो वेल्थ कक्रएशन िे बारे में

ससखाया जाता है और यह चीज़ है जजसिी हमें सबसे ज्यादा ज़रूरत होती है,

क्योंकि पढाई या य ं िहें कि बेससि एजुिेशन िे बाद इसी िी हम सभी िो

सबसे ज्यादा ज़रूरत है। जब भी हम स्ि ल्स से या िॉलेजेस से अपनी पढाई

प र िरिे ननिलते हैं तो सबसे पहले हमारे हदमाग में यह ख्याल आता है कि

पैसे िैसे िमाए जाएाँ। वैसे तो पैसे िमाने िे िई सारे तर िे हैं जो हमें हमार

सोसाइट ससखा देती है। लेकिन ये सोसाइट अपने तर िे िहााँ से लाती है?

सालों साल से या य ं िहें कि सहदयों से हमारे यहााँ िाम िरने िी परंपरा है

ना कि िाम देने िी। लोगों िो लगता है कि उनिो बस एि अच्छी नौिर

6

आसखरी सकताब

िर लेनी चाहहए, लेकिन ये नह ं सोचते कि क्या िरिे वो अपना खुद िा िाम

िर सिते हैं और पैसे िमा सिते हैं। हमिो ल डर बनना नह ं बजल्ि फॉलोवर

बनना ससखाया जाता है। तो ये साइिल सोसाइट ने बनाई है और हम फॉलो

िर रहे हैं, हमें इससे बाहर ननिलना है और खुद िुछ िरिे हदखाना है। हमिो

ल डर बनना है ना कि फॉलोवर और अगर मैं और सट ि बोल ं तो हमिो

फाइनेंसशयल फ्री होना है। क्योंकि जब ति इंसान रोज़ िी जजंदगी जीने में

और नौिर िरिे पैसे िमाने में लगा रहेगा उसिो असल जजंदगी िा मतलब

नह ं समझ आने वाला। इस फैक्टर में हम यह सीखेंगें कि अमीर िैसे बनें।

8. ररलेििलिप मास्िरी: अब यहााँ पर हमारा मिसद ररलेशनसशप में मास्टर

िा है। एि इंसान होने िे नाते हम हमेशा लोगों िे बीच रहते हैं और उनसे

इमोश्नल जुडे हुए होते हैं और अगर िोई हमें िुछ िह देता है तो हम प रे

हदन उसी िे बारे में सचते रहते हैं। िभी िभी तो ऐसा होता है कि अगर हमारे

ररश्ते किसी व्यजक्त पवशेष िे साथ खराब हो जाते हैं तो एि हदन, एि मह ने,

एि साल या िई साल ख़राब हो जाते हैं और हम अपनी जजंदगी में िुछ नह ं

िर पाते हैं। तो मैं चाहता ह ाँ कि आप इस फ़ील्ड में मास्टर हो जाएाँ। सबसे

पहले तो आप इस बात िो समझें कि जजस भी इंसान िे साथ आप ररलेशन

में हों तो उन्हें िैसे टैिल िरना है। आप जहााँ भी जाएाँ तो नए दोस्त िैसे

बनाएं। लोग आपिे पसवनासलट से इतने इम्प्रेस हो जाएाँ कि वो खुद आपिी

तरफ दोस्ती िा हाथ बढ़ाएं। आपिे चाहें पसवनल ररलेशन हों या प्रोफेशनल हों,

ये अच्छे होने चाहहए और इन्ह ं िे बारे में हम इस फैक्टर में पढेंगें।

जैसे ह आप इन सभी फैक्टसव िो अच्छे से समझ लेंगें तो आप अपने

गोल्स ति आसानी से पहुाँच जायेंगें और आपिा गोल है बेस्ट लाइफ़। यानन

कि अपनी लाइफ़ िो बेस्ट बनाना। तो इस प र किताब में हम यह सीखेंगें

और मैं आशा िरता ह ाँ कि प र किताब पढ़ने िे बाद आप वो बन पायेंगें जो

आप बनना चाहते हैं।

7





पुष्कर राज ठाकुर

िॉखटटखनयस अपखलख्टंग थॉट्स

8





आसखरी सकताब

अध्याय – 1

सफल मानससकता को अपनाना

तो इस अध्याय िी शुरुआत हम पहले X - फैक्टर से िरते हैं और वो है

िट (CUT), “िॉजन्टननयस अपसल्टमेंट ऑफ़ थॉट्स”। ऐसे थॉट्स जो आपिो

सक्सेस िी तरफ लेिर जाते हैं। इस अध्याय िा नाम भी मैंने "अडॉजप्टंग अ

सक्सेस माइंडसेट" रखा है। इसिा मतलब है एि सफल मानससिता िो अपनाएं।

आगे हम जो िुछ भी सीखने वाले हैं वो थॉट्स एक्सपीररयंस्ड बेस्ड है। अभी

मैं ये नह ं िह सिता कि ज भी मैं िह रहा ह ाँ वो सह ह है या जो आप सोच

रहे हैं या िह रहे हैं वो सह है। इसिा फैसला आपिो अपने थॉट्स में और

भी गहरायी में जािर लेना होगा। आपिो खुद िो इस चीज़ िा एहसास िरना

होगा कि क्या सह है क्या गलत। यहााँ पर वो चीजें सह हैं जो आपिो आपिे

मनचाहे ररज़ल्ट्स देती हैं, आपिो सक्सेस िी तरफ लेिर जाती हैं और आपिो

वो सभी िाम िरने से रोिती हैं जो आपिो फेसलयर यानन कि असफलता िी

तरफ लेिर जाते हैं। जब हम सक्सेस माइंडसेट िी बात िरते हैं तब हमें ये

समझना चाहहए कि जो िुछ भी हमारे आस-पास हो रहा है वो सब सब्जेजक्टव

है। यहााँ पर किसी भी तरह िी िोई ररयसलट नह ं है और हर चीज़ इंटरप्रेटेशन

िे सलए मौज द है।

हर किसी िे सलए जो वास्तपविता होती है वो अलग होती है, चीजों िो

देखने िा सबिा तर िा अलग अलग होता है। उदाहरण िे सलए, मैं ग्रीस िे

एि बीच पर था जहााँ िई सार महहलाएं बबिनी में थीं, मेरे साथ मेरा एि

दोस्त था जो उन लडकियों िो देखिर बहुत खुश हो रहा था और उनसे बात

िरना चाहता था जबकि एि द सरे अंिल ताज्जुब खा रहे थे कि इन लडकियों

िो िोई शमव नह ं है क्या जो ऐसे ह बीच पर खुले घ म रह हैं। अब आप यहााँ

खुद ह देख सिते हैं कि िैसे दो लोगों िी सोच और नज़ररया अलग अलग

है। ये सब िुछ बबल फ़ ससस्टम िी वज़ह से हो रहा है। जो भी आपिे थॉट्स

होते हैं ये आपिे बबल फ़ ससस्टम से प्रोसेस होिर ननिलते हैं। मैं आपिो

9

पुष्कर राज ठाकुर

उदाहरण देता ह ाँ कि जो िुछ भी हो रहा है वो आपिा जस्टमुलस है, ये आपिो

हर तरफ से ररसीव होता है और जब ये आपिो ररसीव होता है तो ये आपिे

बबल फ़ ससस्टम से प्रोसेस होिर थॉट में िन्वटव होता है। आपिा बबल फ़ ससस्टम

एि कफल्ट्रेशन प्रोसेस है। अगर आपिा बबल फ़ ससस्टम सक्सेस िे तरफ मुडा

हुआ है तो हर चीज़ उसी तरफ जाएगी। आपिी सक्सेस िो िोई रोि नह ं

सिता कफर चाहें कितने भी बैररयसव क्यों न आ जाएाँ।

एि बार एि बहुत ह ज्यादा रेस्पेक्टेड प्रोफेसर थे। एि बार उन्होंने अपने

स्ट डेंट्स से िहा कि वो सबिो एि वीडडयो हदखाएंगें और वो िहते हैं कि उस

वीडडयो िो देखने िे बाद हर िोई अपना ररस्पॉन्स दे। वीडडयो में सभी स्ट डेंट्स

समुंदर में उठती हुई तेज लहरें देखते हैं, साथ ह घने िाले बादल और िडिती

हुई बबजल । उनिो एि पानी िा जहाज़ आता हुआ हदखता है और वो जहाज़

हवा और पानी िे बीच से गुज़रता हुआ हदखता है। थोडे समय बाद वो जहाज

ड ब जाता है। प्रोफेसर यहााँ पर वीडडयो िो रोि देते हैं और अपने स्ट डेंट्स से

प छते हैं िी वीडडयो में उन्होंने क्या देखा? िुछ स्ट डेंट्स ने िहा िी तेज हवा

िी वज़ह से जहाज ड ब गया वह ं िुछ लोगों ने तेज लहरों िो इसिा जजम्मेदार

ठहराया। प्रोफेसर ने िहा कि हर िोई सह है कि जहाज़ ड बा लेकिन वो इससलए

क्योंकि वो पानी से भर गया था। इसी तरह आपिी आस पास भी ऐसी ह

पररजस्थनतयां होंगीं लेकिन आपिा जहाज़ भी वह ं ड बेगा जहााँ इसमें पानी भर

जाएगा। आपिे जहाज़ िा पानी ननगेहटव थॉट्स हैं और ये अगर आपिे हदमाग

में जगह बनाने लगे तो आपिो आगे बढ़ने से रोिेंगे।

ऐसा ह िुछ एि बार एि स्ि ल जाने वाले लडिे िे साथ होता है। वो एि

बार अपने स्ि ल से घर आ रहा होता है तभी रास्ते में उसे िुछ लडिे रोिते

हैं और उसिो ख ब पीटते हैं और उससे िहते हैं कि तुम किसी भी िाम िे

नह ं हो, तुम्हार िोई भी वैल्य नह ं है और तुमिो िोई प्यार भी नह ं िरता,

तुम इस स्ि ल िे सबसे बेिार स्ट डेंट हो। जैसे-जैसे ये लडिा बडा होता है, ये

उन सब ह बातों िो सच मानने लगता है। ये सार बातें उसिे हदमाग में घर

िर जाती हैं। इस हादसे िे पहले वो एि बहुत ह इंटेसलजेंट स्ट डेंट हुआ िरता

था और पढाई िे साथ स्पोट्वस में भी अच्छा था लेकिन जब से उसिे हदमाग

10

आसखरी सकताब

में ये सार बैठीं तबसे उसिा िॉजन्फडेंस नीचे थगर गया और साथ ह उसिे

स्िोर भी। उसने आपने दोस्तों और बािी लोगों से भी बात िरना बंद िर

हदया क्योंकि उसिो लगा कि जो भी उसिो बोला गया वो सब िुछ सच है।

अब आप देख सिते हैं कि िैसे एि बबल फ़ आपिी जजंदगी बदल सिता है।

िुछ लोगों िा ऐसा िहना है कि उनिी खुशी िुछ चीजों िे ऊपर ननभवर

िरती है लेकिन असल में आपिी ये खुशी अंदर से होती है। बाहर िी चीजें

िभी भी आपिी खुशी िा िारण नह ं होतीं। आप किसी भी समय खुश हो

सिते हैं। (तो आप इस फैक्टर िट (CUT) िा प्रयोग िर सिते हैं। अपनी

उाँगसलयों से चुटिी बजाइये और ज़ोर से बोसलये िट और बबना बात िे ह खुश

हो जाईये क्योंकि खुश होने िे सलए आपिो किसी भी र ज़न िी ज़रूरत नह ं

है। तो अभी अपनी आाँखों िो बंद िीजजये और फ़ील िीजजये। ) अगर आपने

खुश होने िे िारणों िा पता लगाना शुरू िर हदया तो यिीन माननये आप

िभी भी खुश नह ं हो पायेंगें। लेकिन हर समय खुश रहना और बबना बात िे

खुश होना भी एि िला हैं जो सबिो नह ं आती, लेकिन आप िर सिते हैं

क्योंकि आप सबसे अलग हैं।

भौनतिवाद चीजें आपिो ससफव िभी िभी ह खुश रख सिती हैं न कि हर

समय। जो भी मैं आपिो िह रहा ह ाँ वो आपिो आपिे बबल फ़ ससस्टम में

जािर देखना पडेगा कि क्या आपिो खुश िरता है और क्या नह ं। तो आपिा

बबल फ़ ससस्टम क्या है और िहााँ ति पहुंचा है?

जब हम छोटे से बच्चे होते हैं तब हमारे अंदर ये बबल फ़ ससस्टम नह ं होता

है, हम सभी िोरे िागज़ िी तरह होते हैं। तो सोचने वाल बात यह है कि ये

बनता िैसे है? ये हमारे अंदर हमारे फैसमल से कफर हमारे फ्रेंड सिवल से और

कफर हमारे ट चसव से बनता है और यह तीनों हैं जो हमारे बबल फ़ ससस्टम िो

सबसे ज्यादा अफेक्ट िरते हैं। और मुझे ये भी लगता है कि िई सारे लोग

डुअल बबल फ़ ससस्टम में पवश्वास रखते हैं, वे एि से ज्यादा चीजों में बबल व

िरते हैं। उदाहरण िे सलए, मेर मााँ एि बार हमारे पडोसी से बात िर रह ं थीं

और वो एि द सरे पडोसी िे बारे में बोल रह थीं कि ये तो उनिे िरम है जो

उनिे सामने आ रहे हैं। िुछ हदन बाद वो पडोसन हमारे घर आईं और हमें

11



पुष्कर राज ठाकुर

बताने लगीं कि उनिो बबज़नेस में घाटा हो गया है और भगवान ने उनिे साथ

सह नह ं किया। जब वो द सरों िी बुराई िर रह थीं तब उनिो िरम हदख

रहे थे और जब उनिी खुद िी बार आये तो सारा ब्लेम भगवान जी िे ऊपर।

यह पररजस्थती डुअल बबल फ़ ससस्टम। तो आपिे िेस में आपिो तय िरना

है कि आपिो िौन सा अपनाना है।

मेरे हहसाब से ये सब िरम िा फल है। जैसा आप बोएंगें, वैसा ह आप

िाटेंगे। जो िुछ भी आपिो समलता है वो एि प्रोसेस या प्रकक्रया िे तहत

समलता है। इस दुननया में िुछ भी अचानि नह ं होता और सब िुछ पहले से

ह ननधावररत है। इस प रे प्रोसेस िो "प्रोसेस ऑफ़ मैननफेस्टेशन" भी िहते हैं।

हमार लाइफ़ में हमें जो भी समल रहा है वो हमारे िमों िा फल है जजसिे

सलए हम खुद ह जजम्मेदार हैं। हमें हमार लाइफ़ में जो भी समल रहा है या

हम जो भी िर रहे हैं वो सभी हमारे िमों िा पररणाम है। अब िमों से यहााँ

मतलब ये है कि जो िुछ भी हम िरते हैं या जजस चीज से भी हम गुजरते हैं

वो सब हमारे िमों िा पररणाम है और हमारे िमव हमारे ऐक्शन्स हैं। हमारे

ऐक्शन्स ह हैं जो ररज़ल्ट्स देते हैं। तो अब अगर हमारे ऐक्शन्स ह ररज़ल्ट्स

देते हैं तो लोग गलत ऐक्शन्स क्यों लेते हैं? जब

लोगों िो पता होता है कि उनिो डॉयबबट ज़ है तो वो मीठा क्यों खाते है?

जब लोगों िो पता होता है कि सुबह जल्द उठना उनिी हेल्थ िे सलए अच्छा

12

आसखरी सकताब

होता है तो कफर क्यों नह उठते हैं? ऐसा वो अपनी बबल फ़ ससस्टम िी वजह

से िरते हैं। साथ ह हमारे पास हमारे ऐक्शन्स िे जजस्टकफिेशन भी होते हैं।

बबल फ़ ससस्टम एि हदन में नह ं बदलता, इसिे सलए िाफी वक़्त लगता

है। इसमें समय लगता है। तो अपने बबल फ़ ससस्टम िो बदलने िे सलए हमिो

हमेशा िुछ बडा सोचना या िरने िी ज़रूरत है। जो िुछ भी हमने पहले किया

है, हमिो उससे बडा सोचने और िरने िी ज़रूरत है। साथ ह हमेशा ऐसी

चीजों से जुडे रहना है जो हमारे बबल फ़ ससस्टम िो बेहतर होने िे सलए बदले।

िई लोगों िो लगता है कि अपनी लाइफ़ में हर अच्छी चीज़ डडज़वव नह ं िरते।

उदाहरण िे सलए: अगर आपिो लगता है कि आपिे सलए िरोडपनत बनना

आसान नह ं है तो आप ऐसे लोगों िे बारे में जान सिते हैं या पढ़ सिते हैं

जजन्होंने खुद िे दम पे िुछ किया हो। अगर अपने लगातार ऐसा िरना शुरू

िर हदया तो आप खुद िे अंदर बदलाव महस स िरेंगें और आप देखेंगे कि

आपिा बबल फ़ ससस्टम बदल रहा है और आप ना िर पाने से िर पाने िी

तरफ़ बढ़ रहे हैं। और आपिा यह बबल फ़ ससस्टम आपिे सपनों िे सलए नए

दरवाजे खोल रहा है।

मैं आपिो समझाता ह ाँ िी सच्चाई और भरोसे में यानन िी बबल फ़ ससस्टम

में एि अंतर होता है। जो सच है वो परमानेंट है और उसिो िोई चैलेंज नह ं

िर सिता। जैसे स रज प वव हदशा में उगता है तो उगता है, आप इसिो नह ं

बदल सिते, मैं इसिो नह ं बदल सिता और आप और मैं क्या, दुननया िा

िोई भी इंसान इसे नह ं बदल सिता। लेकिन जब बात बबल फ़ ससस्टम यानन

िी भरोसे िी आती है तो ये किसी इंसान िे ऊपर ननभवर िरती है। अगर िोई

इंसान अपने अंदर िोई बबल फ़ ससस्टम बनाता है तो िई सार चीजों िे ऊपर

ननभवर िरता है और वो उसिा खुद िा होता है और लोग इसे सह साबबत

िरने िे सलए िुछ भी िरते हैं। जैसे अगर हम धमव िी बात िरें तो उनिा

सच से ज्यादा अपने बबल फ़ ससस्टम से लेना देना है।

िई लोगों िो ऐसा लगता है कि वो अपनी जजंदगी में िुछ भी अच्छा डडज़वव

नह ं िरते। एि बच्चे िो हम अाँधेरे में इससलए नह ं खेलने देते क्योंकि लगता

है कि अाँधेरे में िह ं उसिो चोट ना लग जाए। बच्चों िो रोिने िे सलए उनिे

13

पुष्कर राज ठाकुर

माता पपता उन्हें भ तों िी िहानी सुनाते हैं और उनिे सलए यह उनिा बबल फ़

ससस्टम है। सच और बबल फ़ यानन कि भरोसे िे बीच अंतर है। मैंने ऐसे भी

इंटेसलजेंट लोगों िो देखा है जजनिे पास डाउटफुल बबल फ़ ससस्टम है। लेकिन

अगर आपिे पास स्ट्रांग बबल फ़ ससस्टम होगा तो आपिे साथ हर चीज़

पॉजजहटव होगी। तो ऐसा बबल फ़ ससस्टम अपनाएं जो आप बनना चाहते हैं।

अगर आप देखेंगे तो जो भी मैंने आपिो बताया, 99% लोग उसमें पवश्वास

नह ं िरते। िेवल 1% लोगों िे पास उनिा बबल फ़ ससस्टम होता है जो उनिो

सक्सेसफुल बनाता है और मैं यह चाहता ह ाँ कि आप भी 1% में आएं। आपिो

पता है कि इंडडया में 70% प्रॉपटी 1% लोगों िे पास है और बची हुई 30%

बािी िे 99% लोगों िे पास है। मैं चाहता ह ाँ कि आपिा माइंड सेट उन 1%

लोगों जैसा हो और अपने आप िो सक्सेसफुल बनाएं।

14





आसखरी सकताब

ििसशीट

1.

आपिे वो पहले 3 बबल ्स िौन से हैं जो आपिो आगे बढ़ने से

रोि रहे हैं?

2.

आपिे हहसाब से सह बबल फ़ ससस्टम क्या है? यह कि जो भी िुछ

हो रहा है वो आपिे िमों िा फल है या कफ़र उसिे सलए ऊपर वाला जजम्मेदार

है?

3.

एि कक्रयेटर होने से आपिा क्या मतलब है?

15





पुष्कर राज ठाकुर

अध्याय 2

लेसन्स फॉर योर ब्रेन

किताब िा नया अध्याय बहुत ह हदलचस्प है जजसिा नाम है, "लेसन फॉर

योर ब्रेन" जो 8X फैक्टर िे पहले फैक्टर िट िा ह िॉजन्टनुएशन है जो

आपिो आपिे गोल्स िी तरफ लेिर जाता है। पपछले चैप्टर में जो हमने

सीखा वो ये सीखा कि आपिो आपिे बबल फ़ ससस्टम से जस्टमुलस समलता है

साथ ह हमें थॉट भी समलता है। यहााँ िुछ ऐसे लेसन्स िे बारे में आप सीखेंगें

जो आपिो आगे सोचने में या बढ़ने िे सलए मजब र िरेंगें और इन लेसन्स

िो आपिो अच्छे से पढ़ना पडेगा और समझना पडेगा। तो ये िुल समलिर 5

लेसन्स हैं जजनिे बारे में हम नीचे पढ़ने वाले हैं:

1. आप िो बि जाते हैं ज़जसके बारे में आप ज्यादातर सोचते रहते हैं: अब

आप ध्यान से सोथचये कि आप प रे हदन क्या सोचते हैं? क्या आप प रे हदन

ननगेहटव चीजों िे बारे में सोचते हैं? क्या आप ये सोचते रहते हैं कि आपिे

साथ िुछ बुरा हो जाएगा? या ऐसा ह िुछ और। जो िुछ भी आप सोचेंगे

आप उसी िी तरफ खखंचते चले जायेंगें। आपिा जो ब्रेन है वो एि रेडडयो िी

तरह है जो ससग्नल भेजता भी है और ररसीव भी िरता है तो जैसा आप बाहर

भेजोगे वैसा ह अंदर आएगा। जजस तरह िे ससग्नल आप य ननवसव िो भेजते

हैं वैसे ह हमिो वापस समलते हैं। मान ल जजए कि आप रेडडयो स्टेशन पर

जाते हैं और आप एि फ्रीक्वेंसी सेट िरते हैं। मान ल जजए आपने फ्रीक्वेंसी

सेट िी है 93.5 अब जैसे ह आपने यह फ्रीक्वेंसी सेट िी तुरंत एि गाना

बजना शुरू हुआ लेकिन अगर आप इस फ्रीक्वेंसी िे साथ छेडछाड िरते रहेंगे

तो आपिो गाना नह ं सुनाई देगा बजल्ि आपिो अजीब औ’ गर ब आवाज

सुनाई देगी और हो सिता है थोडी ह देर बाद िोई द सरा गाना शुरू हो जाए

लेिन यह सभी एि कफ्रिवेंसी िे ऊपर डडपेंड िरता है। और सेम ऐसा ह

आपिे हदमाग िे साथ भी होता है जो चीजें आप अपने हदमाग में लेिर चलते

हैं आपिे साथ भी वैसा ह होता है। तो आप इस बात िो समखझये कि आप

16

आसखरी सकताब

जो भी सोच रहे हैं वो बहुत ह इम्पोटेन्ट है। यहााँ पर आपिो रुिना है और

अच्छा सोचना है। आपिो उन िे बारे में सोचना है जो पॉजजहटव है। आप जजस

भी ससचुएशन िो ननगेहटव सोचते हैं उनिे बारे में अच्छा सोचिर देखखये। जो

भी आउटिम आप ननगेहटव सोच रहे हैं उसे पॉजजहटव सोचिर देखखये। हमार

सोच हमारे वश में है और हम उन्हें बदल सिते हैं लेकिन हमें पता होना

चाहहए कि हम ननगेहटव सोच रहे हैं। आप जैसा सोचोगे आप वैसे ह बन

जाओगे तो आप वैसा ह सोचो जैसा आप बनना चाहते हो। आपिो िोई भी

चीज़ एि दम से पिड िे नह ं रखनी है खासिर ननगेहटव चीजें। आपिो अपने

थॉट्स िो मॉननटर िरना पडेगा कि िह ं आप गलत तो नह ं सोच रहे। यहां

पर भी आपिो िट िा इस्तेमाल िरना है अगर आप उस नेगेहटव सोच रहे हैं

तो आपिो तुरंत पीछे छोडिर पॉजजहटव सोचना है। आपिो अपने इमैजजनेशन

िो एि कक्रएहटपवट देनी है। ऐसा िरने से अगर िुछ गलत होने वाला होगा

तो वह भी पॉजजहटव हो जाएगा।

इस लेसन में हम जो िुछ भी सीखने वाले हैं उसिे सलए हमें एि गहरे

सपोटव िी जरूरत है। मैं यह नह ं िहता कि आप हर चीज पर आंख बंद िरिे

भरोसा िर ल जजए या जो भी मैं िह रहा ह ं उस पर आंख बंद िरिे भरोसा

िर ल जजए बजल्ि मैं यह िहना चाहता ह ं कि जो भी मैं बोल रहा ह ं आप

उसिे बारे में आप सोथचए, पवचाररये और कफर ररलाइज िीजजए कि आपिे

सलए कितना सह है और कितना गलत।

2. आप िह सब कुछ कर सकते हैं जो आप सोचते हैं क्रक आप कर सकते

है: आप यहााँ हर वो चीज़ िर सिते हैं जो आप सोच सिते हैं और आप हर

वो चीज़ सोच सिते हैं जो आपने िभी नह ं सोची क्योंकि आपिी सोच आपिे

िंट्रोल में है। आपने आज से पहले नह ं सोचा कि आपिो अमीर बनना है तो

आप आज सोच सिते हैं। आपने नह ं सोचा कि अच्छी बॉडी चाहहए तो आप

आज सोच सिते हैं। नयी सोच िे साथ आप अपनी नयी लाइफ़ िी शुरुआत

िर सिते हो। क्या हुआ अगर किसी चीज़ िे बारे में आपने अभी ति नह ं

सोचा, अभी भी वक़्त है, आप सोथचये क्योंकि आप वह अचीव िरेंगें जो आप

सोचेंगें। आपिो यहां पर यह सोचना है कि आपिो अपनी जजंदगी में क्या

17

पुष्कर राज ठाकुर

चाहहए। आपिो इससे फिव नह ं पडना चाहहए कि वह प्रैजक्टिल पॉससबल है

कि नह ं। िई लोग ऐसे होते हैं जो यह चीज नह ं सोच पाते क्योंकि उनिा

बबल फ़ ससस्टम ह वैसा नह ं होता है। आप वो सब िुछ िर सिते हैं जो आप

सोच सिते हैं लेकिन ये आपिे बबल फ़ ससस्टम िे ऊपर है।

3. जो भी आपका ददमागसोच सकता है उसे हालसलकरसकता है: क्या एि

िुत्ता हाथी िे बच्चे िो जन्म दे सिता है? बबलिुल भी नह ं. एि िुत्ता अपने

बच्चे िो ह जन्म दे सिता है लेकिन आपिे हदमाग िे सलए ऐसा बबल्िुल

भी नह ं है। आप जो चाहे वह सोच सिते हैं और जो चाहे वो पा सिते हैं।

आपिे हदमाग िे सोचने िी शजक्त अनसलसमटेड है। यह िुछ भी िंसीव िर

सिता है और िुछ भी अचीव िर सिता है। अगर आप िुछ सोच रहे हैं

लेकिन आपिो लग रहा है कि ऐसा नह ं हो सिता तो आपिो अपने बबल फ़

ससस्टम िो बदलने िी जरूरत है। आप अपने बबल फ़ ससस्टम िो ज्यादा से

ज्यादा एक्सपोजर द जजए और उसिे सलए आप ऐसे लोगों िी िहाननयां पढ़

सिते हैं या वीडडयो देख सिते हैं जजन्होंने इंपॉससबल िो भी पॉससबल किया

हो। आपिे हदमाग में आता है कि उसे ₹10000 िमाने है तो आप जरुर िमा

सिते हैं ये 10 िरोड िे सलए भी उतना ह एप्ल िेबल है, यहााँ अगर आपिो

िुछ चाहहए तो वो है अपने बबल फ़ ससस्टम िो मजब त िरना। लेकिन आपिा

हदमाग वो सभी चीजें सोच सिता है जो वो चाहता है। किसी भी चीज़ िे बारे

में सोचो अपने हदल िो समझाओ और वो चीज़ आपिो समल जाएगी। जो

सबसे इम्पोटेन्ट चीज़ वो है उस पवचार िो हदमाग में लाना। नेपोसलयन हहल

िे पास एि किताब थी जजसिा नाम था, "थथंि एंड ग्रो ररच" और वो खुद भी

इस बात पर जोर देते हैं। आपिो ससफव ये सोचने िी जरूरत है कि आपिी

लाइफ़ अच्छे िे सलए बदल सिती है और िुछ भी अचीव िर सिती है। जब

मैं 9th क्लास में था तब मेर ट चर ने मुझे एि बहुत ह अच्छी बात ससखाई

थी कि, "अपने सपनों िो आसमान िी तरफ फेंिो और अब अपने सपनों िो

िहो कि वो आपिो ऊपर िी तरफ खींचे, हो सिता है कि वहां ति न पहुाँच

पाए जहााँ ति आपिे सपने हों लेकिन हााँ आप िम से िम थोडा सा ऊपर तो

उठेंगें। तो अब आप थोडा ऊपर उठें और अपने सपनों ति पहुाँच जाएाँ। "जजतना

बडा सोच सिते हैं सोथचये और ये भी सोचें कि आप उन्हें पा सिते हैं। हम

18

आसखरी सकताब

हमेशा अपने सपनों िे साथ समझौता िरते हैं। एि िैंडडडेट एि इंटरव्य िे

सलए जाता है और िंपनी िहती है कि आप किसी भी िीमत पर उन्हें चाहते

हैं। वो िैंडडडेट जॉब ऑफर एक्सेप्ट िरता है और बदले में 1 लाख िी सैलर

िी डडमांड िरता है। िंपनी वाले उसिो 60, 000 रूपये देने िी बात िरते हैं।

आपिो लगता है कि अगले मह ने उसे 1 लाख रूपये समलेंगें? नह ं। ठीि उसी

तरह जब भी आप िुछ बडा सोचते हैं तो लोग आपिो िम में सेटल िरने िी

िोसशश िरते हैं। तो आपिो अपनी वैल्य बढ़ानी है। ऐसा सबिे साथ होता है,

तो ऐसे में आपिो खुश रहना है लेकिन संतुष्ट नह ं।

ठीि ऐसे ह जब आप िुछ बडा सोचेंगें या िरना चाहेंगें तो आपिे आस

पास िे लोग, आपिे पररवार वाले यहााँ ति कि आपिा खुद िा हदमाग आपिो

आगे बढ़ने से रोिेगा। लोग बोलेंगें कि जजतना समल रहा है उसी में खुश रहो।

लोग आपिो डडस्िरेज िरेंगे कि ऐसा मत िरो या वैसा मत िरो। उनिे पास

पता नह ं िहााँ िहााँ िे उदाहरण आ जायेंगे कि एि आदमी ने ऐसा ह किया

था तो उसिे साथ ये हो गया या वो हो गया। उनिो लगेगा कि िह ं िुछ बडा

िरने िे चक्िर में मेरा नुक्सान न हो जाए। लेकिन मैं िहता ह ाँ कि होना

चाहहए। मैं भी अपनी लाइफ़ में फेल हुआ ह ाँ, लकिन उससे मैंने बहुत िुछ

सीखा है और मैं लाइफ़ में आगे भी बढ़ा ह ाँ। मैं एि बार नह ं िई बार फेल

हुआ हों लेकिन मैंने हार नह ं मानी और मैं प्रयास िरता गया। आज मेरे

फॅसमल मेंबसव एिदम द सरे तरह से बात िरते हैं क्योंकि मैंने मेरे बारे में उनिे

बबल फ़ ससस्टम िो चेंज िर हदया। आपिो इतनी सी बात समझनी है कि जो

भी लोग सोचते या समझते हैं वो प्योर उनिे एक्सपीररयंस िे ऊपर आधाररत

होता है। हो सिता है कि जो आप िरना चाहते हैं उसिी िोसशश वो पहले िर

चुिे हों लेकिन असफल हो गए हों और इसीसलए आपिो मना िर रहे हों। वो

नह ं चाहते कि आप भी फेल हों और आपिो बचाना चाहते हों। लेकिन इन

सभी िे चक्िर में आप भी िम्फटव ज़ोन में चले जाते हैं और जब ति आप

िम्फटव ज़ोन में हैं आप सक्सेसफुल नह ं हो सिते।

तो जो मैंने आपिो इंटरपवव वाल िहानी बताई, उसमें अगर िैंडडडेट 1

लाख रूपये से नीचे िाम िरने िे सलए मना िर देता तो पॉससबबल्ट ज़ थीं कि

19

पुष्कर राज ठाकुर

उसिो और ज्यादा िा ऑफर हदया जाता या कफर वो द सर जगह नौिर देखता

जहााँ उसे ज्यादा पैसा समलता।

तो आपिो खुद ह अपनी वैल्य बढ़ानी है। आपिो ध्यान रखना है कि जो

िुछ भी चीजें आपिे माइंड में आती हैं आप वो सब िुछ िर सिते हैं। तो

हमेशा ह बडा सोथचये और िभी िाम िे साथ सेटलमेंट मत िीजजये। आपिो

अपनी वैल्य कक्रएट िरनी है। आपिो खुश हमेशा ह रहना है लेकिन संतुष्ट

िभी नह ं।

4. आप उि 5 लोगों का ऐिरेज हैं ज़जिके साथ आप अपिा समय बबताते

हैं: वो िहावत तो आपने से सुनी ह होगी कि, "संगती से गुण होत हैं, सांगत

से गुण जाय। " आप भी उसी तरह हो जाते हैं जजस तरह िे लोगों िे आस

पास आप रहते हैं। तो उन 5 लोगों िे नाम सलखखए जजनिे साथ आप सबसे

ज्यादा समय बबताते हैं, ये लोग िोई भी हो सिते हैं। उन सभी िी इनिम

सलखखए और उनिो जोडिर 5 डडवाइड िीजजये और इसिे बाद जो भी अमाउंट

आएगा वो आपिी इनिम होगी। इन सभी िी हेल्थ िंडीशन िे बारे में भी

सलखखए, इन िंडीशन िो (गुड, बाद, एक्सीलेंट) िे टमव में सलखखए। इनिी हेल्थ

िा ऐवरेज आपिी हेल्थ होगी। अब अगर आप एि आदमी िी संगती छोड

देते हैं और किसे द सरे िे संगती में जाते हैं जजसिी इनिम पहले वाले से

ज्यादा है तो आपिी भी ऐवरेज बढ़ जाएगी। अब आप ये सोचेंगे कि जो लोग

पहले से अमीर हैं वो आपिे साथ समय क्यों बबताएंगें क्योंकि ऐसा िरने से

उनिा ऐवरेज तो नीचे थगर जाएगा। वारेन बुफे हदन िा 200 िरोड रूपये

िमाता है तो अगर आप उसिे साथ अपना समय बबताते हैं तो आपिा ऐवरेज

हदन िा 50 िरोड हो सिता है। हम लोग ऑस्मोससस से सीखते हैं। िह ं भी

जब दो अलग नेचर िे इंसान एि द सरे िे िनेक्ट िरते हैं तो उन दोनों िे

बीच इन्फॉमेशन एक्सचेंज होती हैं। एि इंसान जजसिे पास िम नॉलेज होती

है वो हमेशा उससे सीखता है जजसिे पास ज्यादा नॉलेज होती है। तो अगर

आपिो िरोडपनत बनना है तो आपिो उन लोगों िे साथ अपना समय बबताना

है जो पहले से ह िरोडपनत हैं। आपिो इसी बात पे फ़ोिस िरना है कि हर

आने वाला हदन आपिा ऐवरेज खराब िर रहा है और इसीसलए आपिो अपना

20

आसखरी सकताब

साथ बडे हहसाब से च ज़ िरना है। आपिो हर किसी िे साथ दोस्ती नह ं िर

लेनी है क्योंकि इससे आपिा ऐवरेज खराब हो सिता है। उन लोगों से आपिो

द र रहना जो अपनी लाइफ़ में बहुत ह ननगेहटव हैं और ससफ़व िम्प्लेन िरना

जानते हैं। वो एि द मि िी तरह आपिे हदमाग िो खा जायेंगें। मैं यहााँ

आपिो खुद से जुडी एि बात बताता ह ाँ, वो बताने से पहले मैं चाहता ह ाँ कि

मेरे पपताजी िे ये बात िभी भी ना पता चले लेकिन ये सच है कि मैं अपने

पपताजी िे साथ टाइम नह ं स्पेंड िरना चाहता। क्योंकि जब भी हमार बात

होती है तो वो इतनी फालत बातें िरते हैं जजसिा मेरे सलए िोई मतलब नह ं

होता। वो बातें मेरे बबल फ़ ससस्टम से बबलिुल भी नह ं समलतीं। मुझे मेरे

बबल फ़ ससस्टम िो बनाने में बहुत मेहनत लगी है और मैं इसे बेहतर ह िरना

चाहता ह ाँ न कि बदतर। तो मैं हमेशा ऐसे लोगों िे साथ रहना पसंद िरता ह ाँ

जो मुझसे बेहतर हैं क्योंकि ऐसा िरने से मेरा ऐवरेज बेहतर होगा। और मैं

चाहता ह ाँ कि आपिा भी ऐवरेज बेहतर हो और इसीसलए मैंने ये उदाहरण

आपिो हदया। ऐसा नह ं है कि वह लोग आगे नह ं बढ़ना चाहते लेकिन वो बढ़

नह ं पाते क्योंकि उनिे अंदर िुछ ऐसा है जो आपिो और उनिो, दोनों िो ह

आगे बढ़ने से रोिता है और आपिो भी नह ं पता चलता कि आप क्या िर

सिते हैं। ऐसा हो सिता है कि िई लोगों िो लगे कि मैं गलत बोल रहा ह ाँ

लेकिन मैं तो आपिो पहले ह िह चुिा ह ाँ कि जो मैं बोल रहा ह ाँ वो 99%

लोगों से मैच नह ं िरता लेकिन मुझे इस बात से फ़िव नह ं पडता। क्योंकि मैं

सबसे अलग ह ाँ। मैं इस भीड से बाहर ह ाँ और अपनी किस्मत मैंने खुद सलखी

है। और आज मेरे पपताजी मुझे देखिर बहुत ह खुश होते हैं। मैं आज पैसे भी

िमा रहा ह ाँ और उनिा और अपना नाम भी और मुझे लगता है कि मैं एि

अच्छा बेटा भी ह ाँ।

5. आप ज़जस ची पर भी फ़ोकस करते हैं िो बढ़ती जाती है: जजस चीज़

पर भी आप फ़ोिस िरते हैं वो बढ़ती जाती है, ये मैग्नीफाइंग ग्लास िी तरह

िाम िरती है, जजस तरफ भी आप मैग्नीफाइंग ग्लास लेिर जाते हैं वहां िी

चीजें बडी हदखने लगती हैं। आपिा फ़ोिस बबलिुल िैमरे िी तरह होता है।

अगर आप अपने िैमरा िा एंगल बदलते हैं तो आपिो िुछ और हदखने लगता

है। तो सबसे पहले आप देखेंगें कि आपिा िैमेरा जजस चीज़ पर फ़ोिस िरता

21

पुष्कर राज ठाकुर

है उसिे आस पास िी चीज़ धुंधल हो जाती है। तो आपिो देखना है कि

आपिी लाइफ़ िा फ़ोिस किस तरफ़ है। आप किस तरफ़ फ़ोिस िर रहे हैं?

क्या आप ननगेहटपवट िी तरफ़ फ़ोिस िर रहे हैं? मैंने बहुत सारे लोगों िो

देखा है कि जब वो सडि से जा रहे हैं और किसी िी लडाई हो जाए तो वो

ज़रूर रुि िर देखने लगते हैं और शायद यह उनिा फ़ोिस होता है। हम

आसानी से डडस्ट्रैक्ट हो जाते हैं। हम में से िई लोग अपने फ़ोिस और

िंसन्ट्रेशन िी पॉवर िो खो चुिे हैं। िन्सेंट्रेशन बबक्लुल हमारे मसल्स िी

तरह है और अगर हमने इसिा इस्तेमाल नह ं किया तो मसल एट्रोफी हो

सिती है। अगर आज आपने अपने िंसन्ट्रेशन मसल्स िा इस्तेमाल नह ं किया

तो िुछ समय बाद इसिा िोई इस्तेमाल नह ं रह जाएगा। हम में से िई लोग

एि बार में एि िाम िे ऊपर नह ं फ़ोिस िर पाते और एि चीज से द सर

चीज िे ऊपर ि दते रहते हैं। एि बार में एि िाम या िोई भी िाम इनसे

नह ं होता है। िई लोग एि साथ िई िाम िरने में पवश्वास रखते हैं और

उनिो लगता है कि वो िर भी सिते हैं लेकिन ऐसा िरने से फ़ोिस डाइवटव

होता है और हम एि भी िाम ढंग से नह ं िर पाते तो मैं आपिो बता दाँ कि

मशीन्स एि साथ िई िाम िर सिती हैं इंसान नह ं। आप किसी चीज़ िे

बारे में जानिार चाहते हैं और आप सोचते हैं कि आप एि ह साथ किताब

पढ़िर और वीडडयो देखिर जानिार हाससल िर लें तो ऐसा नह ं है। एि

समय में या तो किताब ह पढ़ सिते हैं या कफर आप वीडडयो ह देख सिते

हैं। तो एि समय में एि ह िाम पर फ़ोिस िरें ना कि मल्ट टाजस्िंग।

मल्ट टाजस्िंग िरना गलत है क्योंकि ये िरते समय आप जस्वथचंग िरते हैं,

मतलब बार बार एि िाम िो छोडिर द सरे पर ि द जाते हैं और ऐसा िरने

से आपिा आईक्य ( IQ ) लेवल िम होता है। तो आप एि समय में एि ह

िाम िरिर अपना फ़ोिस इम्प्र व िर सिते हैं। अगर आप ससफव अपने बबज़नेस

पे फ़ोिस िरते हैं तो आपिी इनिम बढ़ेगी। अपनी पढाई पे फ़ोिस िरेंगें तो

तो आपिे नंबर अच्छे आयेंगें। अगर अपने ररलेशन पे फ़ोिस िरेंगें तो ररश्ता

मजब त होगा। और अगर आप ननगेहटपवट पे फ़ोिस िरेंगें तो आपिी प्रॉब्लम्स

बढ़ेंगी। उदाहरण िे सलए, सालों पहले अगरआपिे साथ िुछ हुआ हो और आप

आज भी उसी बात से परेशान हैं और लोगों िो बता रहे हैं तो मैं आपिो बता

22

आसखरी सकताब

रहा ह ाँ कि ऐसा िरने से आपिी परेशाननयां िम होने िे बजाये और भी बढ़ेंगीं।

तो आज से आप पुरानी बातें भ लिर आगे िी तरफ़ बढ़ना शुरू िीजजये। बेहतर

फ़ोिस िे सलए आप एि सलस्ट बना सिते हैं कि आपिी प्रायोररट क्या हैं

और आपिो किस चीज़ पर कितना फ़ोिस िरना है।

23





पुष्कर राज ठाकुर

ििसशीट

1.

वो 5 लोग िौन हैं जजनिे साथ आप अपना समय बबताना चाहते

हैं?

a.

b.

c.

d.

e.

2.

इंसानों िे सलए ऑस्मोससस िैसे िाम िरता है?





3.


आपिा एमवीपी (MVP) क्या है?

24





आसखरी सकताब

अध्याय 3

फ़ोकस्ड डे ड्रीसमिंग

आज मैं आपिो एि सच बताता ह ाँ कि मुझे आप सभी िे सलए किताब

सलखते हुए बहुत ह अच्छा लग रहा है क्योंकि इसिे पीछे भी मेरा ह स्वाथव

है। जो भी चीजें मैं आपिे साथ शेयर िर रहा ह ाँ ये मुझे वो सारे चीजें याद

हदला रह हैं जो मैंने िभी सीखी थीं। मेरे मन में सबसे पहले पॉजजहटव थॉट्स

आते हैं और कफर मैं वो आपिे साथ शेयर िरता ह ाँ और वो पॉजजहटपवट आप

ति ट्रांसफर होती है। मैं ये सभी चीजें बहुत एन्जॉय िर रहा ह ाँ और आशा

िरता ह ाँ कि आप भी िर रहे होंगें। इस अध्याय में मैं आपिो डे ड्रीसमंग िे

बारे में बताऊंगा, आप भी थोडा तो सोच में पड ह गए होंगे। अच्छा आप

इमैजजन िीजजये आप एि बडे से सेसमनार में गए हैं जहााँ ढेर सारे लोग इिठ्ठा

हुए हैं और आप उनसे िहते हैं कि चसलए हम डे ड्रीसमंग िरते हैं, यानन िी

हदन में सपने देखते हैं या खुल आाँखों से सपने देखते हैं। तो लोग भी सोचेंगे

कि ये क्या बोल रहा है? असल में हम सभी डे ड्रीसमंग िरते हैं लेकिन जजस

डे ड्रीसमंग िी बात मैं िर रहा ह ाँ वो आपिे डे ड्रीसमंग से अलग है और दोनों

में अंतर है।

अथधितर हमारा जो माइंड है वो अलग अलग हदशाओं में घ मता रहता है

और उसमें एि साथ ह िई सार चीजें चलती रहती हैं। लेकिन मैं यहााँ "फ़ोिस्ड

डे ड्रीसमंग" िी बात िर रहा ह ाँ। हम यहााँ भी हदन में सपने देखेंगे लेकिन फ़ोिस

िे साथ, अब आप सोचेंगें िी इसिा मतलब क्या है? तो मैं आपिो बता दाँ

कि दुननया में जजतने भी इन्वेंशंस हुए हैं वो डे ड्रीसमंग िी वजह से ह हुए हैं।

आपने इसाि न्य टन िे बारे में सुना ह होगा। एि बार वो एि पेड िे नीचे

बैठे थे और उनिे सर िे ऊपर एि सेब थगरा और उन्होंने और उन्होंने ग्रेपवट

िी खोज़ िर ल । इसिे पहले लोगों िो ग्रेपवट िे बारे में िुछ भी पता नह ं

था। ऐसे ह महान साइंहटस्ट अल्बटव आइंस्टाइन ने "थ्योर ऑफ़ ररलेहटपवट "

िी खोज़ िी।

25

पुष्कर राज ठाकुर

जजस थॉट या थथंकिंग िे साथ हम एक्सपेररमेंट िर रहे हैं उसिे साथ वो

डेल एक्सपेररमेंट किया िरते थे। मैं ये नह ं िह रहा कि हम सभी उन्ह ं िी

तरह जीननयस हैं लेकिन उनिो फॉलो िरिे हम लोग उनिे िुछ गुण तो हमारे

अंदर ला ह सिते हैं। थॉमस अल्वा एडडसन, एि महान साइंहटस्ट जजसिी

वजह से आज दुननया में रोशनी है, वो भी डे ड्रीसमंग किया िरते थे। िई सारे

इन्वेंशंस डे ड्रीसमंग िी वज़ह से ह हुए हैं। तो अब आप बताईये कि आप डे

ड्रीसमंग िैसे िरेंगे?

अच्छा एि बात बताईये कि जब आप नहाते हैं तो क्या आपिे हदमाग में

िोई आईडडया या पवचार आता है? या कफर िह ं जाते वक्त या िुवह िरते

समय अचानि से िुछ स झा है आपिो िभी? जी बबल्िुल आपिे साथ ऐसा

हुआ ह होगा। लगभग सभी लोगों िे साथ होता है िी िुछ िरते िरते अचानि

से हदमाग में आईडडया आ जाता है। लेकिन यहााँ पर डे ड्रीसमंग िरते हुए या

िुछ िाम िरते हुए िैसे आईडडया लाना है उसिा एि प्रोसेस है लेकिन उस

प्रोसेस िे बारे में बताने से पहले मैं आपिो माइंडफुलनेस िे बारे में बताऊंगा।

तो यहााँ मैं आपिो ये बताना चाहता ह ाँ कि आपिे माइंड िे सलए दो चीजें

जरूर हैं - एि तो मेडडटेशन और माइंडफुलनेस और यहााँ हम माइंडफुलनेस िे

बारे में पढेंगें और मेडडटेशन िे बारे में आगे सीखेगें। तो अभी हम बात िरेंगें

माइंडफुलनेस िी जो कि एि िला है जजसिी वज़ह से हम प्रेजेंट में िोई भी

चीज़ जजसिो महस स िर सिते हैं। आप जैसे भी हैं वैसे ह चीजों िो फील

िर रहे हैं। आप अपने पांचों सेंसेस यानन कि इजन्ियों से बबना किसी जजमेंट

िे प्रेजेंट म मेंट जो भी महस स िर हैं उसे ह माइंडफुलनेस िहते हैं।

अपने आस पास िी चीजों िो आप देखो और जब आप उन्हें एि आहटवस्ट

िी तरह देखोगे तो वह अलग तरह िी ह हदखेंगीं। जब आप अपने आस पास

म्य जज़ि सुन रहे हो तो उसे एि म्युजज़सशयन िे तरह सुनो, जब आपिे पास

िोई खुशब आ रह हो तो उसे परफ़्य समस्ट िी तरह फील िरो, िोई िी टेस्ट

िरो तो शेफ़ िी तरह िरो। आप किसी भी समय िुछ भी िर रहे हो तो अपने

सेंसेस से जस्टमुलस ले रहे हो। उन 5 सेंसेस िे ज़ररये हदमाग िो ससग्नल्स जा

रहे हैं जजन्हें हम जस्टमुलस िहते हैं और मैं ये चाहता ह ाँ कि जब वो जाएाँ तो

26

आसखरी सकताब

वो पॉवरफुल जाएाँ और बबना किसी जजमेंट िे जाएाँ। आप अभी जजस भी जगह

पर है या जजस मोमेंट में हैं उसे फील िरें, ऐसा िरने से आपिे माइंड िी

िैपाससट बढ़ जाएगी।

ऐसा िरने से आप पुरानी चीजें भ ल चुिे हैं और ससफव प्रेजेंट में जी रहे हो,

यिीन माननये ऐसा िरने से आप एिदम से अलग महस स िरेंगे और यह ं

आपने डडस्िवर िी अपनी माइंडफुलनेस और शुरुआत िी डे ड्रीसमंग िी।

आपिा माइंड आपिे सेंसेस िे जररये जो भी जस्टमुलस ररसीव िरता है वो

बहुत ह स्ट्रांग और पॉवरफुल होना चाहहए। आप अपने आस पास िी चीजों

िो अभी से फील िरना शुरू िीजजये। इसिे सलए आपिो ससफ़व 290 सेिंड्स

लगेंगें। अगर आपने ऐसा िरना शुरू िर हदया तो आप देखेंगे कि आपिा माइंड

एि द सर तरह से सोच रहा है। और आपिो पता है कि जब आप ससफ़व प्रेजेंट

में जीते हैं तो आप अपने दुुःख और तिल फ से द र रहते हैं।

अच्छा, अब आप मुझे एि द सर बात बताओ कि क्या आपने िभी अपने

माइंड िे स्ट्रक्चर िो आइडेंहटफाई किया है? मैं आपिो बताता ह ाँ, अगर आप

किसी बफ़व िे टुिडे िो या ग्लेसशयर िो पाने में तैरता हुआ देखेंगें तो आपिो

हदखेगा कि ऊपर वो छोटा सा हदखता है लेकिन पानी िे अंदर वो बहुत बडा

होता है। हमारा माइंड भी ऐसे ह िाम िरता है और इसिे दो पाटव हैं - एि

िॉजन्शयस और द सरा सबिॉजन्शयस। हमारा माइंड भी उसी बफ़व िे टुिडे जैसा

है जो ऊपर हदखता है वो िॉजन्शयस माइंड है और नीचे वाला सब िॉजन्शयस

या अन िॉजन्शयस जो बहुत बडा है। आपिे माइंड िी िैपेससट बहुत ज्यादा

है। और अब जब आप माइंडफुलनेस िे प्रोसेस से ननिल रहे हैं तो आप अपने

माइंड िो एि डायरेक्शन दो और उस बारे में सीक्वेंस में सोचो। और अब

हमारा सब िॉजन्शयस माइंड बहुत िुछ िर सिता है। हो सिता है िी ग गल

िे पास आपिे सभी सवालों िा जवाब न हो लेकिन आपिे माइंड िे पास,

आपिे हदमाग िे पास आपिे हर सवाल िा जवाब है।

तो आप डे ड्रीसमंग पर फ़ोिस िरना शुरू िर दो। अपने माइंड िो आप

एि गोल दो और कफर उसे उस गोल िो प रा िरने िी तलाश में भटिने दो।

आपमें से शायद िुछ लोगों ने “मोज़ाटव” िे बारे में सुना होगा। वो एि

27

पुष्कर राज ठाकुर

ऑस्ट्रेसलयन म्युजज़सशयन थे। उन्होंने एि बार अपने पपताजी िो एि ख़त

सलखा था जजसमें उन्होंने सलखा था कि उनिे हदमाग में सभी अच्छे आइडडयाज़

तभी आते है जब वो रात में सोने से पहले सभी बातें छोडिर अपने बार में

सोचते है यानन िी ससफ़व अपने साथ होते है। यह समय होता है जब वो सबसे

अच्छा सोच सिते हैं। आज भी मोज़ाटव िे लेवल िोई मैच नह ं िर सिता।

आप जब भी किसी चीज़ िे बारे में सोचते हैं तो सभी द सरे पवचार अपने से

द र िर दें, खासिर निारात्मि पवचार यानन कि ननगेहटव थॉट्स। और अगर

आप ननगेहटव सोच रहे हैं तो िट(CUT) फैक्टर िा इस्तेमाल िर लें।

अब अगर आप सोच रहे हैं कि डे ड्रीसमंग िे सलए सबसे अच्छा समय या

जगह क्या हो सिती है? तो आप किसी भी समय या जगह पर डे ड्रीसमंग िर

सिते हैं। चसलए इसिो थोडा ससंपल िरता ह ाँ। मान ल जजये कि आप गाडी

चला रहे हैं, तो इस समय आपिे हाथ बबज़ी हैं लेकिन आपिा माइंड फ्री है।

आप अपनी िार सब िॉजन्शयस माइंड से ड्राइव िर रहे हैं और सभी िाम

अपने आप हो रहा है, अपने आप ब्रेि लग रह है और क्लच भी अपने आप

ह िम िर रहा है। िई बार तो ऐसा भी होता होगा िी आप ड्राइव िरते हुए

आ रहे हो और आपिो पता भी नह ं चलता कि िब आपिा डेजस्टनेशन आ

जाता है। मुझे तो ऐसा लगता है कि डे ड्रीसमंग बहुत इम्पोटेन्ट है और यहााँ मैं

चाहता ह ाँ आप दो चीजें जानो और उसिा ध्यान रखो जजसमें पहल तो वो ये

कि आप वो ्य चर इमैजजन िरो जो आप चाहते हो। आप इमैजजन िरो कि

आज से पांच साल बाद मेरे पास क्या होगा। मैं आपिो यहााँ एि पॉवरफुल

टेजक्नि दे रहा ह ाँ जजसे मैं बैिवाडव पवज़न िहता ह ाँ।

मान ल जजये कि आपिो आपिे एक्साम्स में 100% माक्सव चाहहए। तो

अब एि पेपर पर सलखखए कि आपिे एक्साम्स िब हैं। जो िुछ भी आपिे

गोल्स हैं उनिे बारे में डडटेल में सलखखए कि ये िब है? आप अपनी तैयार

िब और िैसे िरेंगें? आप कितने माक्सव लायेंगें? ररज़ल्ट्स आने िे बाद आप

लोगों से किन ररएक्शंस िी उम्मीद िर रहे हैं? इत्याहद इत्याहद। अब ये सोचो

कि आप अपने एग्जाम िे एि हदन पहले क्या िर रहे हो, क्या आप कक्रिेट

खेल रहे हो? नह ं। आप उसी िी तैयार में बबज़ी हो। आप ररवीज़न िर रहे हो

28

आसखरी सकताब

और एग्जाम िे सलए अपने आप िो मेंटल पप्रपेयर िर रहे हो। हो सिता है

कि आप उसी पहले इस किताब िो पढ़िर बैिवाडव पवज़न िे बार में पढ़ रहे

हों। तो जो भी अचीव िरना चाहते हैं उसिे बारे में ररवसव आडवर में पप्रपेयर

िीजजये और उस हहसाब से िाम िीजजये। बैिवाडव पवज़न िा आपिे लाइफ़

पर बहुत बडा प्रभाव पडता है और मैं भी उसी िॉन्सेप्ट िे साथ अपना िाम

िरता ह ाँ और अच्छी लाइफ़ जी रहा ह ाँ। ये हर उस जगह िाम िरती है जहााँ

भी आप िुछ अचीव िरना चाहते हैं।

उदाहरण िे सलए, आपिो आपिे सेल िे बबज़नेस में 5 गुना ग्रोथ चाहहए,

आपिो समलेगी। बस आपिो एि चीज़ िरनी है और वो है बैिवडव पवज़न,

यानन कि आपिो चीजें पीछे से सोचना शुरू िरना है। यहााँ पे डडटेल्स िी बहुत

इम्पोटेंस है। मान ल जजये कि आपिो एि िार खर दनी है और आप शोरूम

में जाते हैं, वहां आप सेल्स मैन िो प र डडटेल देते हैं कि आपिो िौन सी

िार चाहहए और किस िलर िी और वो सभी डडटेल्स जो उसे चाहहए होती है।

ससफ़व ये सोचने से िाम नह ं चलेगा कि आपिो िार लेनी है बजल्ि आपिो

इसिे सलए आपिो स्टेप्स सलखने पडेंगे। और इसिे सलए आपिो स्टेप्स ररवसव

आडवर में सलखने हैं और उसी हहसाब से आपिो ऐक्शन्स लेने हैं। याद रखखये

कि ऐक्शन ह सुप्रीम है!

जो भी लाइफ़ अपने फ़्य चर में सोच रहे हैं वो असल में आप रोल प्ले िर

रहे हैं। लेकिन हम में से िई लोग इसिे बारे में ननगेहटव सोचते हैं। हम दोस्तों

िे साथ गलत िरने िा सोचते हैं क्योंकि उन्होंने हमारे साथ गलत किया होता

है। तो अपने हदन िी शुरुआत ससफ़व अच्छी चीजों और अच्छी सोच िे साथ

िीजजये। आपमें से िई लोग ये सोच रहे होंगें िी इस बुि िो पढ़ने िे बाद

वो भी एि स्टेज पर खडे होिर लोगों िो प्रेजेंटेशन दे रहे होंगें। तो आज से

ह आप अपने हदन िी शुरुआत अच्छी सोच िे साथ िरें। मैं भी अपने सेसमनासव

से पहले डे ड्रीसमंग िरता ह ाँ। मुझे लगता है कि मैं सेसमनार में प्रेजेंटेशन देने

िे सलए तैयार ह ाँ क्योंकि मैं अपने हदमाग में िई बार इस रोल िो प्ले िर

चुिा होता ह ाँ। मैं िई बार इस चीज़ िी प्रैजक्टस िरता ह ाँ और ऐसा िरने से

29

पुष्कर राज ठाकुर

मैं लोगों िो वो दे पता ह ाँ जो मैं देना चाहता ह ाँ तो आपिो आपिे फ़्य चर और

सक्सेस िे सलए आज से ह पप्रपेयर िरना शुरू िर देना चाहहए।

तो इस िट(CUT) फैक्टर में हमने तीन चीजें सीखीं - एि तो एि सक्सेस

माइंडसेट अडॉप्ट िरना और अपने बबल फ़ िो उसी तरफ़ मोडना, द सरा "आपिे

ब्रेन िे सलए लेसन" और तीसरा "डे ड्रीसमंग"। तो िंहटन्युअस अपसल्टमेंट

थॉट्स फैक्टर िी इन तीनों चीजों िो सीखखए और प्रैजक्टस िीजजये।

ये जो भी हमने अभी सीखा वो 8X फैक्टसव िा एि फैक्टर था। मैं उम्मीद

िरता ह ाँ कि आपने इससे थोडा बहुत तो सीखा होगा।

30





आसखरी सकताब

ििसशीट

1.

15 समनट िे सलए माइंडफुलनेस टेजक्नि िा इस्तेमाल िीजजये।

2.

अपने किसी भी गोल िो प रा िरने िे सलए बैिवडव पवज़न टेजक्नि

िा इस्तेमाल िीजजये। अपने गोल और प्लान ऑफ़ ऐक्शन िो ररवसव आडवर में

सलखखए।

3.

5 मॉननिंग ररचुअल्स

31





पुष्कर राज ठाकुर

अध्याय 4

सुबह के समय ररफ़्रेश्ड कैसे उठें

पहले फैक्टर में हमने िॉजन्टननयस अपसलज्टंग थॉट्स िे बारे में पढ़ा। ऐसे

थॉट्स जो लागातर आपिो आगे बढ़ने िे सलए मोहटवेट िरेंगें। अब हम नए

डोमेन िी शुरुआत िरने वाले हैं जजसिा नाम है 5 मॉननिंग ररचुअल्स जो

आपिो अडॉप्ट िरने हैं। और उनमें से पहला है कि आप सुबह जल्द िैसे उठें

और आपिे अंदर फुती भी हो। मैंने देखा है कि लोग जब सुबह उठते हैं तो

आलस से भरे होते हैं और थिे होते हैं कफर चाहें वो 10 घंटे ह क्यों न सोये

हों। वो अपने बॉडी में वो एनजी फील नह ं िरते। तो ऐसा क्यों होता है? तो

आज इस चैप्टर में यह सीखेंगे कि सुबह जल्द िैसे उठ सिते हैं और फ्रेश

फील िर सिते हैं। िई लोग सुबह देर से उठते हैं और सुबह िे समय िो

गाँवा देते हैं। सुबह िा समय हमेशा ह बहुत ह महत्वप णव होता है और में इसे

'गोल्डन टाइम' िहता ह ाँ। ये टाइम सुबह 4 से 6 बजे िे बीच िा होता है।

तो सवाल ये नह ं है कि सुबह कितनी ज़ल्द उठें बजल्ि सवाल ये है कि

सुबह किस समय उठें? मैं सुबह 4 बजे उठता ह ाँ, शुरू में मुझे लगता था कि

सुबह 4 बजे सोिर उठना मेरे सलए मुजश्िल है लेकिन मेर डडक्शनर में

"मुजश्िल" शब्द अब है ह नह ं और मैं आसानी से सुबह 4 बजे उठ सिता ह ाँ

क्योंकि।

हम सभी िो पता है कि हमें हर हदन 6-8 घंटे िी नींद लेनी ह चाहहए,

तो अगर मुझे सुबह 4 बजे उठना है तो मुझे रात में 10 बजे ति सो जाना

चाहहए। अगर मैं देर से सोिर सुबह ज़ल्द उठने िी िोसशश िरूंगा तो मेरा

माइंड मुझे बोलेगा कि मुझे प र नींद नह ं समल है और वो उतना फ्रेश नह ं

फील िरेगा जजतना चाहहए। तो सुबह ज़ल्द और फ्रेश उठने िे सलए आपिो

अपने सोने िा एि स्िेड्य ल बनाना पडेगा और इस बात िा भी आपिो सुबह

कितने बजे उठना चाहते हैं। ज्यादातर लोग सुबह 8 बजे उठते हैं और जजस

गोल्डन टाइम पीररयड िी मैं बात िर रहा था वो सुबह 5-8 िे बीच में है। ये

32

आसखरी सकताब

वो जादुई तीन घंटे हैं िी अगर लोग इनिा सह इस्तेमाल िर लें तो वो वल्डव

िे टॉप िे 1% लोगों में शासमल हो जाएंगे। अगर आप 7 बजे भी उठते हैं तो

भी आप 90% लोगों िो एि घंटे पीछे छोडते हैं। ऐसे ह अगर आप 6 बजे

उठते है तो आप लोगों िो दो घंटे पीछे छोडते हैं और सुबह 4 बजे उठते हैं तो

उन लोगों से 4 घंटे आगे हैं।

अगर आप सक्सेसफुल लोगों िी िहाननयां पढेंगें तो आपिो पता चलेगा

कि वो सभी सुबह 4-6 िे बीच उठते हैं और फ्रेश फील िरते हैं। वो िुछ

मॉननिंग ररचुअल्स फॉलो िरते हैं। तो आप िैसे सुबह जल्द उठिर फ्रेश फील

िर सिते हैं? आप नीचे सलखे हटप्स पढ़िर फॉलो िर सिते हैं:

1. सोिे की तैयारी करें: जैसे आप जजम जाने िे सलए या योग िरने िे

सलए तैयार होते हैं जजसमें आप ज़रूर िपडे पहनते हैं या ज़रूर डाइट लेते हैं

इत्याद इत्याद िरते हैं, ठीि उसी तरह आपिो सोने िे सलए भी तैयार िरें

जो बहुत लोग नह ं िर पाते हैं और जब सुबह उठते हैं तो आलस से भरे होते

हैं। िई लोगों िो तो ढंग से नींद भी नह ं आती और नींद आने िे सलए उनिो

शराब या दवाईयों िा सहारा लेना पडता है। क्या वो लोग सुबह ररफ्रेश्ड हदखते

हैं? बबल्िुल भी नह ं, तो आप अच्छी नींद लेने िे सलए तैयार िैसे िरेंगें? िई

सारे लोग ऐसे होते हैं जो ऑकफस से घर आते ह ट वी देखने लगते हैं और

उनिे हदमाग में िई सार चीजें स्टोर होने लगती हैं जो अथधितर ननगेहटव

होती हैं और हमारा माइंड उसी तरफ़ ज्यादातर जाता है। ये सभी चीजें हमारे

सब िॉजन्शयस माइंड में जािर स्टोर होती हैं। जो भी ट वी शोज़ हम इंडडया

में देखते हैं उनसे हमें िोई फायदा भी नह ं पहुाँचता है और बहुत ह िम ऐसे

हैं जो हमिो मोहटवेट िरते हैं। तो सोने से पहले जो सबसे बुरा िाम आप

िरते हैं वो है ट वी देखना।

हमारे देश िे जो य थ हैं वो भी हमेशा सोशल मीडडया पर बबज़ी रहते हैं

और उनिा माइंड भी अच्छे चीजों िी तरफ़ नह ं जाता जो उनिी लाइफ़ में

वैल्य ऐड िरे। मैं भी पहले ऐसा ह था लेकिन मुझे एहसास हुआ कि ये मेरे

सलए सह नह ं है और मैंने वो आदत छोड द । आपिा बेडरूम आपिे ररलैक्स

िरने िी जगह होनी चाहहए और वहां िोई भी डडस्ट्रैक्शन नह ं होना चाहहए

33

पुष्कर राज ठाकुर

और आप वहां ससफ़व अपने बॉडी और माइंड िो ररलैक्स िरें। तो अच्छे नींद

लेने िी तैयाररयों में आपिो जो सबसे पहला िम है वो ये है कि आपिो अपने

बेडरूम में िोई ट वी नह ं रखनी है। द सरा ये कि सोने से 15 समनट्स पहले

अपना फ़ोन भी आप अपने से द र िर दें। अगर आप सुबह 6 घंटे िी नींद

लेिर सुबह 5 बजे जागना चाहते हैं तो अपना फोन 10:45 पर ह अपने से

द र िर दें। अपना फोन तकिये िे नीचे या साइड वाले टेबल पर ना रखें क्योंकि

इसिे रेडडएशंस खतरनाि होते हैं।

2. पॉज़जदिि चीजें पढ़ें: पॉजजहटपवट में ध्यान लगाएं, अच्छी किताबें पढ़ें,

आहटविल्स पढ़ें। अगर आप रात में सोने से पहले अच्छी चीजें पढेंगें तो आपिे

सब िॉजन्शयस माइंड में स्टोर होंगी और रात में आपिे हदमाग में फीड होंगी।

ये चीजें आपिो आपिी अगल सुबह िे सलए पॉजजहटपवट देंगीं। आपिो इस

बात िा भी ध्यान रखना है कि आपिो क्या पढ़ना है। आप नोवेल्स न पढ़ें

बजल्ि सक्सेफुल लोगों िी बायॉग्रफ़ीस पढ़ें। सेल्फ इम्प्र व्मेंट्स िे ऊपर किताब

पढ़ें क्योंकि ऐसी चीजें आपिो मोहटवेट भी िरेंगीं। जैसे हर हदन सुबह नहाना

और खाना ज़रूर है वैसे ह लाइफ़ में डेल बेससस पर मोहटवेशन भी ज़रूर है।

समय पर सो जाएँ: अगर मुझे एि बहुत ह ज़रूर फैसमल फंक्शन अटेंड

िरना है तो मैं रात िे 8 बजे जािर 9 बजे ति वापस आ जाऊाँगा और 9.30

बजे ति सो जाऊाँगा क्योंकि मुझे सुबह ज़ल्द उठना है। अगर मैंने अपनी ये

आदत एि बार तोड द तो मैं सुबह फ्रेश माइंड से नह ं उठ पाऊंगा और मैं

इसिे साथ मैं िोई समझौता नह ं िर सिता। तो रात में सोने िा एि टाइम

कफक्स िर लें और उसे उतनी ह इम्पोटेंस दें जजतनी आप द सर चीजों िो देते

हैं। मोबाइल िी लाइट आपिे स्ल पपंग पैटनव िो ख़राब िरती है और और

आपिो बेवि फ बनाती है कि अभी रात नह ं हुई है। िई लोग ऐसी सशिायत

िरते हैं कि उनिो रात िो नींद नह ं आती और अगर आप उनिो प छोगे कि

वो क्या िरते हैं तो वो िहेंगें कि अपने फोन पे लगे रहते हैं। तो आप ह

बताओ कि जब आपिो समझ ह नह ं आएगा कि अब सोना है तो आप िैसे

सोयेंगें? तो सोने से पहले मोबाईल िा इस्तेमाल न िे बराबर िरें। । आपने

वो इंजग्लश में भी सुना होगा कि, " Early to bed, early to rise keeps a

34

आसखरी सकताब

man healthy wealthy and wise." तो आप अगर सुबह एि घंटे भी पहले

उठते हैं तो आप लोगों से 365 घंटे आगे चल रहे हैं लेकिन ये हट्रि ससफ़व सुबह

िे सलए ह है, रात में एि घंटा ज्यादा जागिर िोई फायदा नह ं है। हो सिता

है कि रात िो आपिो िोई िॉल या मेसेज िर ले लेकिन सुबह िे समय िोई

भी डडस्ट्रैक्शन नह ं होती और इंसान शांनत से अपना िम िर सिता है।

उदाहरण िे मान ल जजये कि आप एि स्ट डेंट हैं और सुबह िा एि घंटा

आप अपनी पढाई िे ऊपर खचव िर रहे हैं तो जब आपिे एग्ज़ैम्स आयेंगें तो

आपिे पास सबसे ज्यादा नॉलेज होगी। लोगों िो लगेगा कि आपिे पास िोई

जादुई शजक्त है जो आपिे पास इतना सारा नॉलेज है। तो आप गवव िे साथ

िह सिते हैं कि, बबलिुल क्योंकि मैंने, "सफल जजंदगी िे सलए आखखर किताब

पढ़ है। "

इस स्ट्रैटेजी िो आपन लाइफ़ िे हर फील्ड में अपना सिते हैं जहााँ आप

जो चाहे वो िर सिते हैं। और सोथचये कि अगर आप इस टाइम पीररयड िो

तीन गुना िर दें तो क्या होगा? सोचना क्या है, बेशि आप बहुत ह आगे

ननिल जायेंगें।

3. पॉज़जदिि सोचें और ललखें: जब आप हमेशा अच्छा सोचेंगे तो आपिे

साथ अच्छा होगा और आप चीजों िो एन्जॉय िर पायेंगें और ये आपिो

ब्लेससंग जैसी लगेंगी। आपने प रे हदन में जो भी अच्छी चीजें िर उसिे बारे

में सोचें, वो िुछ भी हो सिती हैं। जैसे आपने किसी िी मदद िी हो, पढ़ाई

िे हो या कफर िुछ और। सोने जाने से पहले इसे सलख लें। ऐसा िरने से

आपिे शर र में पॉजजहटव हॉमोन्स ररल ज़ होंगे जजसिी वज़ह से आपिे ब्लड

में डोपामाइन ररल ज़ होगा और आप सुबह एिदम फ्रेश माइंड से सोिर उठेंगें।

जो िुछ भी आप प रे हदन में िर रहे हैं आप उसे िहें नोट िर लें। आप

ताररख िे हहसाब से भी नोट्स बना सिते हैं और कफर उसे रेफ़र िर सिते

हैं। ऐसा िरने से आपिो मोहटवेशन समलती रहेगा और आप अपनी जजंदगी िो

बेहतर बनाते रहेंगे। लेकिन इन सबिे साथ आपिो खुद िो अपने अच्छे िामों

िे सलए एपप्रसशएट िरना है। आपिो एि ऐसा इंसान बनना है जजसिे ऊपर

हर िोई प्राउड फील िर सिे।

35

पुष्कर राज ठाकुर

4. बबिा आलास क्रकये अपिे बेड से िीचे उतरें: हमने पहले भी बात िी हुई

है कि सोने जाने से पहले अपना फोन खुद से द र रखें। अलामव क्लॉि में अलामव

लगाएं और उसे अपने पास रखें, जैसे ह सुबह िा अलामव बजे तुरंत ह बबना

आलस किये उठ जाएाँ। अलामव िो स्न ज़ पर ना रखें और एि बार आप उठ

गए तो दुबारा ना सोएं। आप इस आदत िो रोज अपनाएं। आप तुरंत उठते ह

एनजेहटि नह ं फील िरेंगे लेकिन धीरे-धीरे आपिो अच्छा लगेगा और धीरे-

धीरे ये आपिी आदत बन जाएगी। अपने स्ल पपंग टाइम िो एडजस्ट िरिे

अपना बॉडी साइकिल चेंज िर सिते हैं। आप अगर ज़ल्द सोयेंगे तो आप

ज्यादा नींद भी ले सिते हैं।

5. एटसरसाइ करें: आप सुबह ज़ल्द उठिर एक्सरसाइज़ िर सिते हैं।

एक्सरसाइज़ िरने िे सलये आप बाहर भी जा सिते हैं या कफर अपने बेडरूम

में भी िर सिते हैं। बाहर जािर आप जॉथगंग िर सिते हैं या कफर घर में

ह विवआउट िर सिते हैं। जब मैं सुबह उठता ह ाँ तो मैं 10 समनट िे अंदर

जािर नहाता ह ाँ क्योंकि जब ठंडा ठंडा पानी आपिी बॉडी पर पडता है तो

आपिी बॉडी ऐजक्टव हो जाती है। इसिे बाद मैं एक्सरसाइज़ िरता ह ाँ, योग

िरता ह ाँ और मेडडटेशन भी िरता ह ाँ। और हदन िी शुरुआत िरने िे सलए

स्ट्रेचर सबसे बहढ़या चीज़ है। हमारे िल्चर में या य ं िहें कि हमार संस्िृनत

में मेडडटेशन िी बहुत इम्पोटेंस है लेकिन जैसे जैसे हम मॉडनावइज़ेशन िी तरफ़

बढ़ते जा रहे हैं हम मेडडटेशन से द र जा रहे हैं। मेडडटेशन िा हमारे ऊपर बहुत

ह पॉजजहटव असर पढता है। मेडडटेशन िे बारे में हम और बातें अगले अध्याय

में पढेंगे।

जो भी पॉइंट्स मैंने आपिो बताये हैं उनमें से पहले 4 आपिो सोने से

पहले फॉलो िरने हैं और बािी िे 2 सुबह उतने िे बाद। आप ऊपर िे हटप्स

फॉलो िरिे एि फ्रेश और अच्छी हदन िी शुरुआत िर सिते हैं। एि चीज़

जो लोग अिसर सुबह उठते ह िरते हैं वो है चाय पीना। सुबह िो द ध वाल

चाय नुिसान पहुंचाती है और आपिे नववस ससस्टम िो डैमेज िरती है। हो

सिे तो सुबह उठिर हल्िा सा गमव पानी पपयें या कफर ग्रीन ट लें। ऐसा िरने

से आप एनजेहटि फील िरेंगे जो आपिो नामवल ट या िॉफी नह ं देगी।

36

आसखरी सकताब

मैं यिीन िे साथ िह सिता ह ाँ कि अगर आपने ऊपर िे हटप्स फॉलो िर

सलए और इन आदतों िो अपने जीवन में अपना सलया तो आपिे अंदर बहुत

सारे पॉजजहटव चेंजेस आयेंगे और लोग आपसे इंस्पायर भी होंगे। मैं ससफ़व

आपिो सलाह दे सिता ह ाँ, मानना या ना मानना आपिे हाथ में है।

37





पुष्कर राज ठाकुर

ििसशीट

1.

रात में सोिे से पहले आप क्रकतिे देर तक िी िी देखते हैं?

2.

आज के बाद, रात में सोिे से पहले आप टया पढ़िा पसिंद करेंगे?

3.

आप सुबह उठकर कौि सी 5 एटसरसाइजेस करिे िाले हैं?

a.

b.

c.

d.

e.

38

आसखरी सकताब

4.

आपको कैफीि टयों िहीिं लेिा चादहए?

5.

अगर आप हर ददि बाकी लोगों से एक घिंिे ज्यादा का इस्तेमाल

करते हैं तो आप टया ररजल्ट्स दे सकते हैं? आप इस घिंिे का इस्तेमाल कहाँ

करिा चाहेंगे?

39





पुष्कर राज ठाकुर

अध्याय 5

मेसडटेशन कैसे करें

मॉननिंग िे 5 ररचुअल्स िे इम्पोटेन्ट ऐजक्टपवट ज़ में एि है मेडडटेशन जो

सभी िो रोज़ िरना चाहहए। ये एि ऐसी स्टेज होती हैं जहााँ आपिा माइंड

एिदम जक्लयर होता है और इमोशंस एिदम शांत। मेडडटेशन िरिे आप आप

अपनी िॉजन्शयसनेस और अवेयरनेस भी बढ़ा सिते हैं। और कफर आप अपने

माइंड िो और भी अच्छी से य ज़ िर सिते हैं। मैं आपिो हाई मेडडटेशन लेवल

पर पहुाँचने िा एि आसान रास्ता बताऊंगा। ऐसा िरने से आप अपने आपिो

एिदम से शांत पाओगे और हर टेंशन से द र भी।

मैं आपिो प्राणायाम िे बारे में बताने वाला ह ाँ। अगर आप बैठे हैं तो आराम

से बैठें और अपना दाहहने हाथ िी दो उाँगसलयों िो अपने माथे पर रखें और

उसी हाथ िे अंग ठे से अपने नाि िो एि तरफ़ से बंद िरें (ऐसा िरते हुए

आपिी दो उंगसलयां आपिे माथे पर ह होनी चाहहयें)। एि तरफ़ से सांस लें

और द सर तरफ़ से ननिालें। अपने ले्ट हैंड िी थंब और इंडेक्स कफंगर िो

जोडिर 'O' शेप बनाएं और बािी िी उाँगसलयों िो बाहर िी तरफ़ रखें। अपने

ले्ट हैंड िो इसी तर िे से अपने घुटने िे ऊपर रखें। आपिो ससफ़व अपनी

ब्रीथथंग पर फ़ोिस िरना है। आप एि नॉजस्ट्रल से सांस अंदर लेिर द सरे से

बाहर ननिालेंगे और कफर उसी से कफर से सांस अंदर लेंगें। अपने आाँखें बंद रखें

और ऐसा 5 समनट ति िरते रहे। आप महस स िरेंगे कि आपिा माइंड एिदम

जक्लयर हो चुिा है और आप अच्छा महस स िर रहे हैं। आप ररफ्रेश्ड फील िर

रहे हैं। आप ऐसा रोज़ िरें और धीरे-धीरे इसिा टाइम पीररयड बढ़ाएं। एि बात

ध्यान रखें कि जब आप सांस बाहर ननिालते हैं तो सांस अंदर लेने िी तुलना

में थोडा सा धीरे ननिालें।

आप इसिो एि द सरे तर िे से भी िर सिते हैं। आप इसे आाँखें खोलिर

भी िर सिते है। नीचे बैठ जाएाँ और सीधे देखें और अपनी हथेल अपने दोनों

पैरों िे ऊपर रखें और ऊपर िी तरफ़ िरें। अपनी आाँखों से ससफ़व एि तरफ़

40

आसखरी सकताब

देखें और अपने आस पास िी चीजों िो बबना किसी जजमेंट िे फील िरें।

अपने माइंड में अपना नाम लें और बार बार लें। जैसे मेरा नाम "पुष्िर राज

ठािुर" है तो बार-बार अपने माइंड में "मैं पुष्िर राज ठािुर ह ाँ" बोलें। ऐसा

िरते हुए शांनत से सांस लें। इसिे बाद ससफ़व अपना पहला नाम लें और उसी

तरह से सांस लें। अब अपना पहला नाम भी हटा दें और ससफ़व "मैं" बोलें या

"ॐ" बोलें। इसिो अपने माइंड में बोलें। अपने आस पास िी चीजों पर फ़ोिस

िरते रहे और अपने अंदर िी एनजी िो फील िरें। आप देखेंगे कि आप एिदम

अलग महस स िर रहे हैं और आपिे माइंड में िुछ भी नह ं है, वो एिदम से

खाल है।

यहााँ मैंने आपिो मेडडटेशन िे दो तर िे बताये जजसमें एि आाँख खोलिर

िरना है और द सरा बंद िरिे। आप इसे 5 समनट 10 समनट या कितनी भी

देर िर सिते हैं। जजतना ज्यादा िरेंगे आपिा हदमाग शांत होगा और आप

हदन िी शुरुआत बेहतर तर िे से िर पायेंगे।

41





पुष्कर राज ठाकुर

ििसशीट

1.

िह ं भी एि शांत स्थान पर बैठ जाईये और और प्राणायाम िरते

हुए 10 समनट िा मेडडटेशन िीजजये।

2.

िह ं भी एि शांत स्थान पर बैठ जाईये और और अपना नाम बार

बार लेते हुए मेडडटेशन वाल टेजक्नि से मेडडटेशन िीजजये।

3.

दोनों में से मेडडटेशन िे सलये आपिो जो भी टेजक्नि पसंद हो आप

उसी िा इस्तेमाल िरते हुए मेडडटेशन िीजजये और उसिो रूट न बना ल जजये।

आपिो हर रोज़ हदन में िम से िम 10 समनट मेडडटेशन िरना ह है।

42





आसखरी सकताब

अध्याय 6

हर सिन का गोल सेट करने का रूटीन बनाएिं

तो इस चैप्टर में आप जो िुछ भी सीखने वाले हैं वो मॉननिंग ररचुअल्स में

सबसे ज्यादा महत्वप णव है। जो हम सीखने वाले हैं वह बहुत ह इम्पोटेन्ट

फैक्टर है और हर सक्सेसफुल आदमी इसे फॉलो िरता है और आपिो भी

अगर सक्सेसफुल होना है तो ये आपिे भी डेल स्िेड्य ल में होना चाहहए और

ये है अपने गोल्स सेट िरना। गोल्स सेट िरने िे लेिर आपने पहले जो भी

सीखा है और आप जो अब सीखेंगे उन दोनों में अंतर है। आज जो आप सीखेंगे

वो पहले वाले िा अडवांस्ड वशवन है। ये शुरू में आपिो थोडा सा अलग लगेगा

लेकिन इसिो फॉलो िरने िे बाद आप और भी ज्यादा इफेजक्टव हो जायेंगे।

तो पहले मैं आपिो बताता ह ाँ कि हमार लाइफ़ में दो तरह िे गोल्स होते हैं

-पहला ईगो गोल्स और द सरा मास्टर गोल्स। तो इन दोनों िे बीच अंतर क्या

है?

अगर आपिे गोल्स गाडी खर दना, नया घर खर दना, पैसे िमाना, छुट्ट

पर जाना इत्याहद हैं तो ये सब ईगो गोल्स में आते हैं और ऐसे गोल्स हमारे

इससलए होते हैं क्योंकि हम सोशल एननमल्स हैं और द सरों िे सामने हदखावा

िरना हमें अच्छा लगता है। हम चाहते हैं कि लोग हमार तार फ़ िरें और

अक्सर हम अपने ईगो गोल्स प रे भी िर लेते हैं। लेकिन इस बुि में हम

पसवनल मास्टर िी बात िर रहे हैं तो यहााँ हम द सरे गोल्स िी बात िरेंगे।

मान ल जजये कि आप सोचते हैं कि अगले 5 सालों में आप एि ऑडी खर द

लेंगे लेकिन इसिी क्या गारंट है कि वो ऑडी आपिे पास हमेशा रहेगी। तो

यहााँ ईगो गोल्स और मास्टर गोल्स में सबसे बडा अंतर ये है कि ईगो गोल्स

आप अचीव भी िर लेते हैं तो उनिे हटिने िी िोई गारंट नह ं लेकिन मास्टर

गोल्स अचीव किया तो हमेशा आपिे पास रहेंगें।

43

पुष्कर राज ठाकुर

आपिो वह समलता है जो आप डडज़वव िरते हैं, ना कि जो आप चाहते हैं।

आपिो जो िुछ भी समलता है वो आपिो उसी हहसाब से समलता है जजस

हहसाब से आप सोसाइट में डडल वर िरते हैं। लेकिन ध्यान रहे कि जो िुछ

डडज़वव िरते हैं वो आपिो ज़रूर समलेगा। लेकिन सक्सेसफुल होने से पहले

आपिो अपनी वैल्य कक्रएट िरनी पडेगी। ईगो गोल्स हमेशा ऑब्जेजक्टव होते

हैं और मास्टर गोल्स सेल्फ इम्प्र वमेंट िे ऊपर होते हैं। आप जजस फ़ील्ड में

भी हैं अगर आप उसमे बेस्ट होना चाहते हैं तो आपिो इस बात पर फ़ोिस

िरना चाहहए कि आप बेस्ट होने िे सलए क्या अचीव िर सिते हैं। उदाहरण

िे सलए, मैं बोलचाल से सम्बंथधत िाम में माहहर ह ाँ तो मैं ज्यादा से ज्यादा

लोगों िो अपनी बातचीत से िैसे इन्फ़्लुएंस िर सिता ह ाँ? मैं अपनी नॉलेज

और िम्युननिेशन िो िैसे बेहतर िर सिता ह ाँ? मैं अपनी इनिम िैसे बढ़ा

सिता ह ाँ? इन्ह ं चीजों पर फ़ोिस िरना और इनिो इम्प्र व िरना मास्टर

गोल्स िे अंदर आता है।

वैसे देखा जाए तो दोनों ह गोल्स लाइफ़ में इम्पोटेन्ट हैं लेकिन मास्टर

गोल्स पर फ़ोिस िरना ज्यादा बेहतर है। अगर आपने अपनी फ़ील्ड में मास्टर

िर ल तो अपनी जस्िल्स से आप पैसे िमा पायेंगें और अपने ईगो गोल्स वैसे

भी अचीव िर पायेंगें। अगर आप मास्टर गोल्स पर िाम िरेंगें तो वो हमेशा

आपिे साथ रहेंगे और जो भी आप डडज़वव िरते हैं वो सब आपिो समलेगा।

लेकिन अगर आप अपने ईगो गोल्स अचीव िरने में लग जायेंगें तो िोई भरोसा

नह ं है कि वो चीजें िब ति आपिे साथ रहेंगी। अगर िे.बी.सी. (KBC) िे

एि िंटेस्टेंट ने 5 लाख रूपये जीते हैं तो वो अपने ईगो गोल्स अचीव िर

सिता है लेकिन वो मेंटेन िरने िे सलए आपिो मास्टर गोल्स अचीव िरना

पडेगा। अगर आपिे अंदर जस्िल्स हैं तो आपिो आपिे ईगो गोल्स अचीव

िरने में मदद समलेगी।

तो आपिे गोल्स अपने आप िो मास्टर िरने िे सलए होने चाहहए। आपिो

आपिे फ़ील्ड में मास्टर होना है कफर चाहें वो पसवनल हो या कफर प्रोफेशनल।

हर हदन िी शुरुआत िे साथ आपिो खुद िो बेहतर बनाना है और अगर आप

ऐसा िरते हैं तो आप खुद ह सोथचये कि आपिी लाइफ़ िहााँ पहुाँच जायेगी?

44

आसखरी सकताब

और अगर आप हर हदन अपने आपिो इम्प्र व िरने िे सलए िाम िर रहे हैं

तो आप खुद ह अच्छा महस स िरेंगे और आप और भी मोहटवेटेड होंगे। ईगो

डड्रवेन गोल्स लॉन्ग लाजस्टंग नह ं होते वह ं मास्टर गोल्स हमेशा साथ रहते हैं

और आपिी वैल्य बढ़ाते हैं। एि ररसचव िे अनुसार हर साल नए साल िी

शुरुआत में हम न्य ईयर ररजॉल्य शन लेते हैं और बाद में हमें वो मुजश्िल

लगते हैं और हम उन्हें छोड देते हैं और ज्यादातर लोग यह िरते हैं।

चसलए हम एि उदाहरण लेते हैं। मान ल जजये हमने एि गोल सेट किया

है कि हमिो S - class मससवडीज़ खर दनी है। िुछ हदनों में आपिो ये

ररयलाइज़ होता है िी यार तो थोडा मुजश्िल है और धीरे- धीरे ये E-class हो

जाएगी। आपिो लगेगा िी दोनों में ज्यादा अंतर तो है नह ं तो एि ग्रेड िम

लेने में क्या जा रहा है और िुछ समय बाद ये C-class हो जाएगी और कफर

वह कि क्या फरि पडता है, चाहें S हो या E हो या C हो, है तो मससवडीज़

ह ना। और अंत में आप अपने गोल्स छोड देते हैं। मान ल जजये आप एि

फोटोग्राफर हैं और आपिो लगता है कि आपिो आपिे जस्िल्स पॉसलश िरने

िी ज़रूरत है तो आप किस बात पे फ़ोिस िरेंगे और िैसे िरेंगे। इसिो

समझने िे सलए आप नीचे सलखे स्टेप्स फॉलो िर सिते हैं:

➢

िौन? मतलब इम्प्र वमेंट िी शुरुआत किससे होती है। तो शुरुआत

आपसे होती है और अपने इस मास्टर गोल िे सलए आप ररस्पॉजन्सबल हैं।

➢

क्यों? आप बेस्ट क्यों होना चाहते हैं ये आपिो सलखना है और िैसे

बनना है वो अपने आप हो जाएगा क्योंकि जजस स्टेज पर अभी आप हैं आपिो

हर चीज िा उत्तर नह ं पता है। दो साल पहले आप चीजों िे बारे में इतना

नह ं पता था जजतना आज पता है, ठीि वैसे ह दो साल बाद आपिे पास आज

से ज्यादा नॉलेज होगी। यहााँ पर अगर आपने "क्यों" िा पता िर सलया तो

"िैसे" अपने आप हो जाएगा। तो आपिो "क्यों" पर ज्यादा फ़ोिस िरना है।

अगर उस िाम िो िरने िे सलए आपिे अंदर स्ट्रांग इमोशंस हैं तो कफर फ़िव

नह ं पडता कि वो िैसे होगा।

45

पुष्कर राज ठाकुर

➢

क्या? इसिे सलए आपिो क्या िरना होगा? उसिा प्रोसेस क्या होगा?

ये सब िह ं सलख ल जजये और ये आपिे सब िॉजन्शयस माइंड में स्टोर हो

जाएगा।

➢

िहााँ से? इसिी शुरुआत िहााँ से होगी? जब मैंने मेरा बबज़नेस शुरू

किया, तब मेरे मेंटर ने मुझे मेरे िब? क्यों? िैसे? िे बारे में बताया कि ये

बहुत ह इम्पोटेन्ट चीजें हैं।

➢

िब? अगर आपिा बबज़नेस सीज़न ओररएंटेड है तो और सीज़न अभी

है तो अभी अपने बबज़नेस िी शुरुआत िरें।

तो अपने मास्टर गोल्स बनायें और उन्हें प रा िरें। माइिल जैक्सन घंटों

शीशे िे सामने खडे अपने डांस िी प्रैजक्टस िरता था। उसिो जजतनी भी

तार फें समलती हैं वो सब वो डडज़वव िरता है। तेंदुलिर घंटों ति नेट पे प्रैजक्टस

िरते थे। उनिे पास फ़रार इससलए है क्योंकि वो अपने फ़ील्ड िे मास्टर हैं

और वो ये सब सक्सेस डडज़वव िरते हैं।

लेकिन हर िोई अपने फ़ील्ड िा मास्टर नह ं हो सिता क्योंकि सभी िी

िोई न िोई सलसमट होती है। लेकिन हमेशा दो चीजें होती हैं, एि तो वो कि

हम सबसे बेस्ट क्या िर सिते हैं और द सर वो कि हम क्या क्या िर सिते

हैं। जब मैंने मेरे विव आउट िी शुरुआत िी थी तो मैं 20-25 पुश-अप्स ह

िर पाता था। हो सिता है कि आपिे साथ भी ऐसा ह होता हो। उस समय

मेरे सलए वह बेस्ट था कफर मैंने खुद से पुछा कि क्या यह मेरा बेस्ट है? और

इसिा उत्तर था नह ं, अगर मैं थोडा सा रेस्ट िर लाँ तो मैं और िर सिता ह ाँ,

तो मैं दो समनट िा रेस्ट सलया और कफर 20 पुश अप्स किये और कफर थोडा

रेस्ट और कफर पुश अप्स। ऐसा मैं तब ति िरता रहा जब ति मैंने ढेर सारे

पुश अप्स नह ं िर सलए। शुरू में मेर पुश अप िी सलसमट 20 थी लेकिन कफर

मैंने इसिो बढ़ाने िे ऊपर फ़ोिस किया और मेर सलसमट बढ़ भी और मैं 80

पुश अप्स िरने लगा। ऐसा आपिे बबज़नेस, इनिम, नॉलेज किसी भी चीज़

िे साथ हो सिता है। आपिो एि बबल फ़ ससस्टम बनाने िी जरूरत है कि

आपिो ससफ़व अपना बेस्ट नह ं देना है बजल्ि व सब िुछ िरना है जो आप

िर सिते हैं। आप खुद िा ह बेस्ट वशवन बन सिते हैं।

46

आसखरी सकताब

हम में से ज्यादातर लोग जब अपने गोल्स िी बात िरते हैं तो हम उनिो

बहुत बडा बना देते हैं लेकिन मुझे लगता है कि जब आप बडे गोल्स रखेंगे

तभी तो बडा मोहटवेशन समलेगा और बडे मोहटवेशन्स से आप बडे ऐक्शन्स लेंगे

और ररज़ल्ट्स भी अच्छे ह समलेंगे। तो बडे ररज़ल्ट्स अचीव िरने िे सलए

आपिे सपने भी बडे होने चाहहए। सपने हमेशा बडे होने चाहहए लेकिन इनिो

प रा िरने िे सलए आपिो जो स्टेप्स लेने हैं वो छोटे होने चाहहए। चसलए मैं

इस बात िो उदाहरण देिर समझाता ह ाँ, मान ल जजए कि मैं एि हदन में 100

पुश अप्स िरना चाहता ह ाँ, हो सिता है कि मैं िर भी लाँ लेकिन कफर अगले

हदन मेरे शर र में बहुत ददव होगा और हो सिता है कि मैं ना िर पाऊं। तो

ऐसे में मैं हदन िे २० पुश अप्स से शुरुआत िरूंगा और कफर थोडा थोडा रेस्ट

लेिर आगे बढ ंगा। अगले हदन मैं 60 पर पहुाँचाँ गा और ऐसी ह धीरे-धीरे िरिे

मैं 100 ति पहुाँच जाऊाँगा। तो अगर आप एि िंहटन्युअस प्रोसेस में हैं तो

आपिो वो चीज़ हर हदन िरनी है। आपिो चीजें लगातार िरनी हैं क्योंकि

इसी से आप मास्टर बनेंगे। अपनी सलसमट िो हर हदन थोडा थोडा िरिे बढ़ाओ

और कफर देखो कि क्या होता है।

हमिो हमारे स्टेप्स िो भी पप्रऑररटाइज़ िरने िी ज़रूरत है। अगर आपिे

पास 5 गोल्स हैं तो आपिो देखना है िी सबसे पहले िौन सा प रा िरना है

और अगर आप ऐसा िरते हैं तभी आप इनिो अचीव िर पायेंगें। िई लोग

िहते हैं कि अपने िाम से प्यार िरो, आप जो भी िर रहे हो उसमें अपनी

खुशी ढ ंढो और मैंने भी ऐसा िरना शुरू किया। मैंने जो िाम किया वो तब

ति किया जब ति मैंने उस िाम से प्यार किया और उसिो एन्जॉय किया

और जब मुझे मेरे िाम में मज़ा नह ं आया तो मैंने उसे वह ं बंद िर हदया।

मुझे किताबें पढ़ना पसंद है लेकिन ससफव तब ति जब ति मुझे अच्छा लग

रहा है या मैं एन्जॉय िर रहा ह ाँ और मुझे मन नह ं िरेगा तो मैं पढ़ना बंद

िर दं गा।

मुझे िुछ िाम िरिे जो ररज़ल्ट चाहहए वो अगर नह ं समलेगा तो मैं िाम

िरना बंद िर दं गा। तो सभी िो ररज़ल्ट पसंद आना चाहहए ना कि िाम।

मोहम्मद अल ने एि बार िहा था कि उनिो प्रैजक्टस और ट्रेननंग िरना पसंद

47

पुष्कर राज ठाकुर

नह ं है लेकिन जब वो जीतते हैं तो उन्हें बडा मज़ा आता है। मैं तो ये मानता

ह ाँ कि िाम से ज्यादा हमें पररणाम से प्यार िरना चाहहए। अगर आप सेल्स

में हैं और आपिो बात िरना नह ं पसंद नह ं है कफर भी आप िीजजये क्योंकि

आपि ररज़ल्ट्स चाहहए। सुबह जल्द उठने िी आदत डासलये क्योंकि आपिो

ररज़ल्ट्स चाहहए। तो आपिा फ़ोिस ससफव ररज़ल्ट्स पर होना चाहहए।

हमेशा ध्यान रखें कि अगर आप ऐसा िुछ िरते हैं जो आपिो पसंद नह ं

है तो आपिो हमेशा वो समलेगा जो आपिो पसंद आएगा। और अगर आप िुछ

ऐसा िरेंगे जो आपिो पसंद है तो जो ररज़ल्ट समलेगा वो आपिो बबलिुल भी

पसंद नह ं होगा। तो उन चीजों िे ऊपर फ़ोिस िीजजये जो आपिो पसंद नह ं

क्योंकि ऐसा िरने से ह आपिो आपिे पसंद िी जजंदगी समलेगी।

जब भी आपिो आपिे द्वारा किये गए िाम िे ररज़ल्ट्स समलेंगे तो वो

पॉजजहटव या ननगेहटव िुछ भी हो सिते हैं और ज्यादातर ररज़ल्ट्स फेल या

ननगेहटव ह होते हैं। महान साइंहटस्ट एडडसन भी िई बार फेल हुए थे लेकिन

उन्होंने िभी भी उम्मीद नह ं छोडी। उन्होंने िभी नह ं िहा कि वो फेल हुए

और हर बार वो नयी सीख िे साथ अपने एक्सपेररमेंट्स िरते गए। अगर आप

अपने बबज़नेस में फेल होते हैं तो ये फेसलयर नह ं है बजल्ि एि एक्सपेररमेंट

है और आप इससे िुछ सीख ह रहे हैं। एि साइंहटस्ट एि ह ररज़ल्ट पाने िे

सलए पता नह ं कितने हदन एक्सपेररमेंट िरता है और हर फेसलयर िे बाद उसे

नया लेसन समलता है। तो आप भी घबराएं नह ं और अपने गोल्स सेट िरें

और उनमें मास्टर िरें और हर हदन िुछ नया सीखना एि ररचुअल िी तरह

है।

तो ये सीखने िे बाद आपिो क्या िरना है कि अपने सलए ऐक्शन प्लान्स

बनाने हैं और मास्टर गोल्स िो अचीव िरना है। आप अपनी आदत बना

ल जजये कि जब भी सुबह अपने हदन िी शुरुआत िरेंगें तो एि पेन और पेपर

लेिर बैठेंगे और उन सभी गोल्स िी सलस्ट बनायेंगे जो आप अचीव िरना

चाहते हैं।

48





आसखरी सकताब

ििसशीट

1.

आपिे मास्टर गोल्स क्या हैं?

2.

अपने मास्टर गोल्स िे अचीव िरने िे ऐक्शन प्लान्स स्टेप बाय

स्टेप एि पेपर पर सलखें।

49





पुष्कर राज ठाकुर

अध्याय 7

ये आित आपकी सिन्िगी बिल िेगी

इस अध्याय िा जो टॉपपि है वो गेम चेंजर जैसा है और वो है हर हदन

िुछ नया सीखने िी आदत। मॉननिंग िे जजन 5 ररचुअल्स िी बात हमने िी

है, उनमें सबसे ज्यादा महत्वप णव और सबसे जरूर है हर रोज़ िुछ नया सीखने

िी आदत। ये आदत बहुत ह अच्छी है और ये आपिो आपिे आस पास,

आपिे दोस्तों िे बीच, आपिे बबज़नेस और आपिी लाइफ़ िे और भी फ़ील्ड

में िॉजम्पहटहटव अडवांटेज देगी। एि दम ससंपल भाषा में आप लोगों से बेहतर

बन जायेंगे। आपिे आस पास िई सारे लोग होते हैं जो हर हदन िुछ नया

नह ं सीखते लेकिन आप ऐसे नह ं हैं और हर हदन िुछ नया सीखिर अपने

थॉट्स िो और भी पॉसलश िरते हैं। आप लगातार नयी और पॉजजहटव चीजों

िो अपने माइंड में ला रहे हैं जजसिी वजह से आपिा माइंड और शापव और

अपडेट हो रहा है। इससलए हर सुबह जब आप उठते हैं तो आप पपछले हदन से

बेहतर होते हैं। आपने प रे साल यह प्रैजक्टस िी तो क्या आपिो अंदाजा है िी

आपिा माइंड किस लेवल पर होगा? आप द सरों से बहुत आगे ननिल चुिे

होंगे और आपिा माइंड द सरेद सरे ह लेवल पर डेवलप हो चुिा होगा। मैं यह

िम्पाउंडडंग इफेक्ट आपिी लाइफ़ में लाना चाहता ह ाँ और मैं आपिो बताऊंगा

िी आप हर हदन नयी चीज़ िैसे सीख सिते हैं।

1. 60 लमिि स्िडी: यहााँ पर मैंने 60 समनट र डडंग और लननिंग िी बात

नह ं िी है बजल्ि स्टडी िी बात िी है। अब हो सिता है कि आप सोच रहे

हों कि स्टडी क्या है? तो स्टडी र डडंग और लननिंग िा डीपर वशवन है। आप जो

िुछ भी िर रहे हैं िीजजये लेकिन हर हदन 60 समनट िा समय ननिालिर

िुछ न िुछ स्टडी ज़रूर िीजजये। मैंने जब इस चीज़ िी शुरुआत िी थी तब

इसने मेर लाइफ़ में बहुत ह अच्छा असर डाला। तो िोसशश िरें कि हर हदन

सुबह िे समय थोडा सा टाइम ननिालिर अपने आपिो समय दें और हर हदन

आप िुछ स्टडी िरें। एि साल में आपिे पास बहुत सार नॉलेज आ जाएगी।

50

आसखरी सकताब

अगर आप हर हदन ऐसा िरेंगे तो आप द सरों से बहुत आगे ननिल जायेंगे

क्योंकि ज्यादातर लोग ऐसा नह ं िरते इससलए उनिी नॉलेज भी अपग्रेड नह ं

होती है। एि स्ट डेंट िे तौर पे आपिा िॉजम्पहटशन बढ़ता है और आपिा

ररज़ल्ट ह हदखता है कि आपने क्या किया है और कितना किया है। अगर

आप एि बबजजनेसमैन हैं तो आपिी नॉलेज उस फील्ड में बहुत ह ज्यादा होनी

चाहहए।

एि मैं मेरे एि दोस्त िे साथ था और हम दोनों बबज़नेस मॉडल डडसिस

िर रहे थे। उसने मुझसे िहा कि िाम तो हो सिता है लेकिन इसिे सलए हमें

पैसों िी ज़रूरत पडेगी। मैंने उससे प छा, "सच में"? मैंने िहा कि मान लो कि

किसी बबज़नेस िो शुरू िरने िे सलए तुम्हारे पास 100 िरोड रूपये हैं, अब

तुम बताओ कि क्या तुम इसे 1000 िरोड बना सिते हो? मैंने िहा कि ये

ससफव पैसों िी बात नह ं है, िुछ शुरू िरने िे सलए हमें नॉलेज भी उतनी ह

चाहहए। वारेन बुफे, नवीन जैन और अजजत जैन जैसे लोगों िे पास ये ज्ञान है

कि पैसे िैसे बनाते हैं। जो ज्ञान इनिो है वो हमें नह ं है। तो पैसे बनाने िे

सलए ज्ञान भी जरुर होता है।

2. टया पढ़ें: अब सवाल ये है कि क्या पढ़ें तो मैं आपिो बता दाँ कि आपिी

टेक्स्ट बुक्स या पाठ्य पुजस्तिाएं बबलिुल भी मैटर नह ं िरतीं। जब न्य टन

ने ग्रैपवट िी खोज िी थी तो वो उसने स्ि ल िे असाइनमेंट या किसी िोसव

िो प रा िरने िे सलए नह ं िी थी बजल्ि उसिी जजज्ञासा थी। E = mc^2 भी

स्ि ल िा हदया हुआ होमविव नह ं था जो आइंस्टाइन ने प रा किया। पपिासो

से किसी ने आहटवस्ट बनने िो नह ं िहा था या कफर िोहल िो बैट्समैन

बनना है ये िोई िम्पल्शन नह ं था। लेकिन ये सारे अपनी फ़ील्ड िे मास्टर

बनना चाहते थे। तो इस दुननया में बहुत सार चीजें हैं सीखने िे सलए लेकिन

इसिे सलए आपिो सीखने िी भ ख होनी चाहहए और थोडा खाल समय भी।

तो आप हर हदन िुछ नया सीख सिते हैं और खुद िो बेहतर बनाने िे सलए

अपने ऊपर िाम िर सिते हैं। आप जजस फील्ड में हैं उस फील्ड िे बारे में

ज़्यादा से ज़्यादा जानने िी क्य रोससट डेवलप िरें। आपिो एि गोल सेट

51

पुष्कर राज ठाकुर

िरना है कि आपिी फील्ड में आपिो कितना आगे जाना है और उसिे सलए

जो हो सिता है िरें।

3. दूसरों को लसखािे के ललए सीखें: मैं द सरों िो ससखाने और ट्रेन िरने

िे सलए स्टडी िरता ह ाँ। जब मैं जजम में होता ह ाँ और मेरा जजम ट्रेनर मेरे ऊपर

किसी चीज िे सलए थचल्लाता है तो मैं उसे ध्यान से सुनता ह ाँ, मैं िोई भी

चीज़ समस नह ं िरना चाहता इससलए मैं अपना प रा फ़ोिस उस चीज़ पर देता

ह ाँ। क्या आप भी ऐसे ह स्टडी िरते हैं? अगर आप बैडसमंटन में बेस्ट होना

चाहते हैं तो आपिो किसी बैडसमंटन िे प्लेयर से बात िरनी पडेगी और वो

आपिो बातएंगे कि आपिो क्या सीखना है। तो आप मुझे बताईये कि आप

किस फील्ड में मास्टर हैं? अगर मैं खाना बनाना सीख रहा ह ाँ तो मैं इस तरह

से सीख ंगा कि मैं द सरों िो भी सीखा सिं । सीखते हुए मैं िोई भी डडटेल्स

नह ं समस िरूंगा ताकि मैं द सरों िो अच्छे से सीखा सिं । मुझे ये भी ध्यान

से देखना पडेगा कि जो डडश मैं बनाना सीख रहा ह ाँ उसमें क्या िुछ पड रहा

है। साथ ह कितने लोगों िे सलए ये कितने देर में तैयार हो सिती है। मुझे

छोट बडी हर डडटेल िे ऊपर ध्यान रखना पडेगा। क्या आप इस बुि िो ऐसे

ह स्टडी िर रहे हैं जैसे आप किसी िो ससखाना चाहते हैं? मैं िई सारे

मोहटवेशनल स्पीिसव िे वीडडयो देखता ह ाँ और जब मैं उनसे सीखता ह ाँ तो

देखता ह ाँ कि वो िहाननयां सुनाते हैं। मोहटवेशनल स्पीिसव जब भी बोलते हैं

तो उनिे पास िोई न िोई टॉपपि होता है और जब मैं उनिो सुनता ह ाँ तो

इस बात पर ध्यान देता ह ाँ कि वो क्या टॉपपि ले रहे हैं या मान ल जजये कि

एि सेशन में वो किसी टॉपपि िे वो 3 सब टॉपपि लेते हैं कफर मैं ये देखता

ह ाँ कि उन सब टॉपपक्स में वो कितने सब पॉइंट्स ले रहे हैं। द सरेद सरे सब

टॉपपि में वो 2 सब पॉइंट्स मेंशन िरते हैं और तीसरे सब टॉपपि में 4 सब

पॉइंट्स मेंशन िरते हैं। मैं ये सभी चीजें अपने ध्यान में रखता ह ाँ और डाइग्राम

बनता जाता ह ाँ। ऐसा िरने से मुझे चीजें आसानी से समझ आ जाती हैं और

मेरे पास प्रॉपर नोट्स और डायग्राम होता है। ऐसा िरने से मैं द सरों िो भी

ससखा सिता ह ाँ। ऐसा अगर आप रोज़ िरते हैं तो आपिा माइंड डेवलप होता

है। तो अपने माइंड िो ऐसे ट्रेन िरें जैसे आपिो किसी और िो ट्रेन िरना है।

हर इंसान ि ससखाने िा अपना ह तर िा होता है। मैं द सरों िो सीखने िे

52

आसखरी सकताब

सलए सीखता ह ाँ इससलए मेर नॉलेज िाफी स्ट्रांग है। एि मास्टर हमेशा अपनी

मास्टर िे ऊपर फ़ोिस िरता है। जब आप ड्राइपवंग सीखते हैं तो आपिो ये

ऐसे सीखनी है कि अगर किसी और िो जरूरत आप द सरों िो भी ससखा सिें।

आपिो ऐसे सीखना है जैसे आपिो पहले ह पता हो कि आपिो ससखाना है।

िई सारे चीजें ऐसी हैं जो आपने भी गलत सीखी होंगी तो आपिो उन्हें कफ़र

से सीखना है। अगर आप किसी डडश िो गलत तर िे से बनाते थे तो आपिो

इसे सह तर िे से बनाना है।

4. जो भी स्िडी करें उसकी प्रैज़टिस करें: जब भी आप िुछ सीखते हैं तो

उसे आप दोबारा सीखने िे सलए तैयार रहें। आपने जो सीखा है अगर आप

उसिी प्रैजक्टस नह ं िरेंगें तो प र संभावनाएं है कि आप सीखा हुआ भ ल

जायेंगें। मान ल जजये कि आपने िोई डडश यानन कि व्यंजन बनाना सीखा और

बनाया लेकिन वो उस तरह नह ं बना जैसा आपिो चाहहए था तो आप क्या

िरेंगें। आप उस रेससपी पर वापस जायेंगे या कफर वीडडयो देखेंगे और कफर से

सीखेंगे। लेकिन अगर आप प्रैजक्टस नह ं िरेंगें तो आप इसे भ ल जायेंगें तो

इसमें मास्टर होने िे सलए आपिे ये डडश बार-बार बनाने िी ज़रूरत है ताकि

आप भ ले ना। जब आप किसी शॉट िी प्रैजक्टस िरते हैं और मैच खेलते हैं तो

हर आने वाले मैच में आप इसे बेटर खेल पाते हैं। जब आप िोई फाम वला

प्रैजक्टस िरते हैं तो आप इसे नह ं भ लते। पेन और पेपर आपिे दो